पाकुड़: चाइल्ड लाइन की सराहनीय पहल, 3 साल पहले बिछड़े बच्चे को पहुंचाया घर
Pakur News in Hindi

पाकुड़: चाइल्ड लाइन की सराहनीय पहल, 3 साल पहले बिछड़े बच्चे को पहुंचाया घर
तीन साल पहले बच्चा पश्चिम बंगाल में मां-बाप से बिछड़ गया था

पिता छबिलाल चौधरी ने कहा कि तीन साल पहले पश्चिम बंगाल में बेटा खो गया था. तब मोथाबाड़ी थाने और चाइल्ड लाइन में इसकी सूचना दी थी. लेकिन बच्चा नहीं मिला. हमलोगों ने भरोसा छोड़ दिया था. लेकिन पाकुड़ चाइल्ड लाइन की कोशिश के चलते हमें हमारा बच्चा मिल पाया है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
पाकुड़. चाइल्ड लाइन (Child Line) और चाइल्ड वेल्फेयर कमिटी (CWC) की पहल पर तीन साल बाद एक मासूम (Child) को अपने मां-बाप का साया नसीब हुआ. साल 2017 में यह मासूम पश्चिम बंगाल के मोथाबाड़ी में अपने घरवालों से बिछड़ (Missing) गया था. वहां वह किसी राहगीर को मिला और उस राहगीर ने उसे मालदा चाइल्ड लाइन पहुंचा दिया. वहां से बच्चे को मुर्शिदाबाद चाइल्ड लाइन भेज दिया गया. वहां बच्चा तीन साल तक रहा.

चाइल्ड लाइन की पहल पर घर पहुंचा बच्चा 

मुर्शिदाबाद चाइल्ड लाइन के सदस्यों को बच्चे ने अपना घर का पता पाकुड़ बताया. जिसके बाद उसे वहां से पाकुड़ चाइल्ड लाइन भेज दिया गया. पाकुड़ चाइल्ड लाइन के सदस्यों ने बच्चे को ठीक से कॉउंसलिंग कर उसके घर का सही पता जान लिया. चाइल्ड लाइन के सदस्यों ने घर जाकर माता-पिता को वीडियो कॉल के जरिये बच्चे को दिखाया. माता-पिता ने बच्चे को पहचान लिया. इसके बाद पिता को चाइल्ड लाइन बुलाकर बच्चे को सौंप दिया गया.



पिता ने छोड़ दी थी आस



पिता छबिलाल चौधरी ने कहा कि तीन साल पहले पश्चिम बंगाल में बेटा खो गया था. तब मोथाबाड़ी थाने और चाइल्ड लाइन में इसकी सूचना दी थी. लेकिन बच्चा नहीं मिला. हमलोगों ने भरोसा छोड़ दिया था. लेकिन पाकुड़ चाइल्ड लाइन की कोशिश के चलते हमें हमारा बच्चा मिल पाया है.

जिला सीडब्ल्यूसी के सदस्य विनोद प्रामाणिक ने बताया कि बच्चे की सूचना के आधार पर उसके मां-बाप को खोजा गया. गांव के मुखिया से भी बच्चे की पहचान कराई गई. जिसके बाद पुलिस और कानूनी प्रक्रिया पूरी करने के बाद बच्चे को घरवालों को सौंप दिया गया.

इनपुट- कुंदन कुमार

ये भी पढ़ें- राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के लिए छात्र ने बनाई खास पेंटिंग, करना चाहता है भेंट 
First published: February 28, 2020, 2:21 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading