अपना शहर चुनें

States

नक्सलियों के गढ़ में पाकुड़ पुलिस ने कराई खेलकूद प्रतियोगिता

नक्सलियों के गढ़ में पुलिस ने कराई प्रतियोगिता
नक्सलियों के गढ़ में पुलिस ने कराई प्रतियोगिता

आलूबेड़ा गांव में पुलिस ने ग्रामीणों के साथ मिलकर कई प्रतियोगिताओं का आयोजन किया

  • Share this:
पाकुड़ पुलिस ने नक्सलियों के गढ़ में घुसकर उसको चुनौती दी. जिले के अमड़ापाडा का आलूबेड़ा इलाका नक्सल प्रभावित क्षेत्र है. आलूबेड़ा में सिस्टर वालसा और पैनम के निदेशक डी शरण की हत्या समेत दर्जनों घटनाओं को नक्सलियों ने अंजाम दिया. यहां एसपी शैलेन्द्र प्रसाद वर्णवाल, पुलिस पदाधिकारियों और जवानों को लेकर घुसे और घंटों ग्रामीणों से रु-ब-रु हुए.

आलूबेड़ा गांव में पुलिस ने ग्रामीणों के साथ मिलकर कई प्रतियोगिताओं का आयोजन किया. आदिवासी क्षेत्र का लोकप्रिय खेल फुटबॉल प्रतियोगिता का भी आयोजन हुआ. इसमें विजेता और उपविजेता टीमों को पुरस्कृत किया गया. साथ ही खिलाड़ियों को सम्मानित भी किया गया. पुलिस की इस पहल से ग्रामीणों में काफी खुशी देखी गई. पुलिस को अपने पास पाकर ग्रामीणों का हौसला बुलंद हुआ.

पाकुड़ पुलिस ने ग्रामीणों के साथ बेहतर संबंध बनाने, सूचनाओं का आदान-प्रदान करने के लिए, यह पहल की. एसपी शैलेन्द्र प्रसाद वर्णवाल ने ग्रामीणों के लिए टाटा जैसी कंपनी से बात कर खेल एकेडमी खुलवाने का ग्रामीणों को आश्वसन दिया. एसपी ने ग्रामीणों से अपील की कि कोई अंजान व्यक्ति गांव में आकर बैठक करता है या फिर इधर-उधर घुमता है तो इसकी सूचना पुलिस को अविलम्ब दें, ताकि समय रहते ग्रामीणों को सुरक्षा मुहैया कराया जा सके.



एसपी शैलन्द्र प्रसाद वर्णवाल पूरे लाव-लश्कर के साथ आलूबेड़ा में कार्यक्रम किया. कभी इस गांव में आने के लिए पुलिस को हजारों बार सोचना पड़ता था.
 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज