लाइव टीवी

पाकुड़ में पीडीएस के डीलरों का बड़ा गड़बड़झाला, लाभुकों को देते हैं कम अनाज

Kundan Kumar | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: December 20, 2017, 11:25 AM IST
पाकुड़ में पीडीएस के डीलरों का बड़ा गड़बड़झाला, लाभुकों को देते हैं कम अनाज
जनवितरण प्रणाली के डीलरों का गड़बड़झाला

पाकुड़ में जनवितरण प्रणाली में डीलर के स्तर पर गड़बड़झाले का बड़ा खेल जारी है. लेकिन प्रशासन चुप बैठा हुआ है. डीलर यहां खुलेआम लाभुकों को कम अनाज देते हैं और बचे हुए अनाजों की कालाबाजारी करते हैं.

  • Share this:
पाकुड़ में जनवितरण प्रणाली में डीलर के स्तर पर गड़बड़झाले का बड़ा खेल जारी है. लेकिन प्रशासन चुप बैठा हुआ है. डीलर यहां खुलेआम लाभुकों को कम अनाज देते हैं और बचे हुए अनाजों की कालाबाजारी करते हैं.

पाकुड़िया प्रखंड के धोषपोखर पहाड़िया टोला के लाभुकों का कहना है कि डीलर पांच किलो की जगह उन्हें चार किलो अनाज देता है. किरोसिन तेल मात्र दो लीटर दिया जाता है. यहां के डीलर का नाम पूर्णिमा कुनाई है, लेकिन लाभुक कृष्णा कुनाई को बतौर डीलर जानते हैं. क्योंकि डीलर का काम बिचौलिया करता है.

पाकुड़िया में डाकिया योजना का भी बुरा हाल है. इस योजना में डीलरों को लाभुक के घर पर अनाज पहुंचाना होता है. लेकिन होता उल्टा है. रास्ता खराब होने का बहाना बनाकर डीलर लाभुकों को अपने घर बुलाते हैं और खराब अनाज पकड़ा देते हैं.

पाकुड़िया की आबादी लगभग दो लाख है. जिनमें से 1 लाख 68 हजार लाभुक हैं. प्रति लाभुक एक किलो अनाज कम दिया जाता है. ऐसे में हर महीने एक लाख 68 हजार किलो अनाज डीलर बचा लेते हैं और कालाबाजारी करते हैं.

जिला मुख्यालय से पाकुड़िया टोला पचास किलोमीटर दूर है. डीलर यह मानकर चलते हैं कि वरीय पदाधिकारी इतनी दूर जांच करने नहीं आएंगे. इसलिए वे गरीबों को कम अनाज देते हैं. जिले के लिट्टीपाडा,अमड़पाड़ा प्रखंडों में भी कमोवेश यही हाल है. डीलरों पर कार्रवाई नहीं होने के चलते लाभुकों का प्रशासन के ऊपर से विश्वास उठता जा रहा है.

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पाकुड़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 20, 2017, 11:10 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर