अपना शहर चुनें

States

लोकसभा चुनाव 2019: एक वक्त के सियासी गुरु-चेले..आज एक-दूसरे पर चला रहे बयानों के बाण

हेमलाल मुर्मू व साइमन मरांडी
हेमलाल मुर्मू व साइमन मरांडी

साइमन मरांडी और हेमलालू मुर्मू कभी पक्के गुरु- चेला माने जाते थे, लेकिन इनदिनों एक- दूसरे पर जमकर प्रहार कर रहे हैं.

  • Share this:
सियासत में कभी पक्का गुरु- चेला रहे साइमन मरांडी और हेमलालू मुर्मू इन दिनों एक- दूसरे पर जमकर प्रहार कर रहे हैं. पार्टी छूटी, तो साथ छूटा और साथ छूटा, तो सारे रिश्ते- नाते टूट गये. अब चुनाव में जमकर बयानों के बाण चल रहे हैं.

कभी साइमन मरांडी और हेमलाल मुर्मू जेएमएम के कद्दावर नेताओं में शुमार थे. साइमन ने ही हेमलाल मुर्मू को सीपीआई(एम) से जेएमएम में लाया था. लेकिन वक्त के साथ हेमलाल जेएमएम छोड़कर बीजेपी में चले गये. और एक बार फिर राजमहल सीट से चुनावी मैदान में हैं. उनके सामने महागठबंधन के जेएमएम प्रत्याशी विजय हांसदा हैं. जिनके लिए साइमन मरांडी जोर लगा रहे हैं.

हेमलाल के पीछे-पीछे साइमन भी बीजेपी में आये थे. लेेकिन लिटटीपाड़ा से विधानसभा उपचुनाव हारने के बाद वे फिर से जेएमएम में लौट गये. साइमन अब पार्टी प्रत्याशी विजय हांसदा को जीत दिलाने के लिए हेमलाल मुर्मू पर सीधा निशाना साध रहे हैं. बतौर साइमन हेमलाल डेड नेता हैं. जनता उन्हें नकार चुकी है. हालांकि हेमलाल मुर्मू पुराने रिश्ते का ख्याल रखते हुए साइमन मरांडी के बयान पर प्रतिक्रिया देने से इनकार कर दिया. हेमलाल कहते हैं कि साइमन की तबीयत खराब रहती है, जिसके कारण बोलने में गड़बड़ हो जाती है.



रिपोर्ट- कुंदन कुमार
ये भी पढ़ें- कभी थे सियायी दुश्मन..आज हैं दोस्त, पढ़ें दुमका सीट पर शिबू- बाबूलाल के मुकाबले का दिलचस्प किस्सा

शिबू सोरेन के नामांकन कार्यक्रम में जुटे महागठबंधन के दिग्गज, हेमंत बोले- सरकार बनी तो प्राइवेट सेक्टर में भी लागू करेंगे आरक्षण

धनबाद से बीजेपी प्रत्याशी पीएन सिंह ने भरा पर्चा, सीएम बोले- कांग्रेस ने बोरो व रिजेक्टेड प्लेयर को उतारा

झारखंंड: राहुल के माफीनामे पर बोले प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष- 'चौकीदार चोर है' बयान पर पार्टी कायम

पीएम मोदी के अंदाज में सीएम रघुवर ने किया रोड शो, बोले- कांग्रेस और जेएमएम ने मुस्लिम समाज को केवल छला

कांग्रेस प्रत्याशी का आरोप- मंत्रालय के लोग चुनाव में जयंत सिन्हा की कर रहे मदद

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज