अपना शहर चुनें

States

मानव तस्करों के चंगुल से बचाए 6 बच्चे, इन शहरों में कूड़ा बीनने के लिए ले जा रहे थे

पाकुड़ - परिजनों की काउंसलिंग कर उन्हें बच्चों को सौंपा गया
पाकुड़ - परिजनों की काउंसलिंग कर उन्हें बच्चों को सौंपा गया

झारखंड के पाकुड़ रेलवे स्टेशन पर 6 नाबालिग बच्चों को मानव तस्करों से मुक्त कराया गया. चाइल्ड लाइन की टीम ने जीआरपी की मदद से स्टेशन पर छापेमारी कर सभी नाबालिग बच्चों को बचाया.

  • Share this:
पाकुड़. झारखंड के पाकुड़ रेलवे स्टेशन (Pakud Rly Station) पर 6 नाबालिग बच्चों (Minor Children) को मानव तस्करों (Human Trafficking) से मुक्त कराया गया है. गुप्त सूचना के आधार पर चाइल्ड लाइन (Child Line) की टीम ने जीआरपी (GRP) की मदद से सभी नाबालिग बच्चों को बचाया. छापेमारी के दौरान बच्चों की तस्करी करने वाला दलाल भागने में सफल हो गया. सभी बच्चे पाकुड़ जिले के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के इलामी पंचायत के अलग अलग गांवों के रहने वाले हैं. चाइल्ड लाइन की टीम ने बताया कि मानव तस्कर (Human Traffickers) इन नबालिग बच्चों को काम दिलाने के नाम पर कोलकाता, उतर प्रदेश और दिल्ली ले जाने वाले थे. बताया जा रहा है कि इन बच्चों से कूड़ा (Garbage) चुनने का काम कराया जाना था.

दलाल भागने में कामयाब हुआ

बचाए गए सभी बच्चों को CWC (बाल कल्याण समिति ) के समक्ष प्रस्तुत किया गया. सभी बच्चों के परिजनों को बुलाकर उनकी काउंसिलिंग (Counselling) की गई. फिर बच्चों को उन्हें सौंप दिया गया. पाकुड़ जीआरपी में बाल कल्याण पुलिस पदाधिकारी सत्येंद्र कुमार यादव ने कहा कि 6 नाबालिग बच्चों को प्लेटफॉर्म नंबर 2 से छुड़ाकर लाया गया है. उन्होंने कहा कि स्टेशन पर भीड़ होने की वजह से दलाल भागने में कामयाब हो गया. उनके अनुसार इन बच्चों को कचरा चुनने के लिए ले जाया जा रहा था.




पाकुड़ जीआरपी में बाल कल्याण पुलिस पदाधिकारी ने कहा कि बच्चों को कचरा चुनने के लिए ले जाया जा रहा था.गौरतलब है कि पाकुड़ जिले में मानव तस्करी का धंधा कोई नई बात नहीं है. इससे पहले भी कई बार काम दिलाने के नाम पर नाबालिग बच्चे-बच्चियों को दिल्ली सहित देश के कई बड़े शहरों में ले जाया गया है. मानव तस्करी की जाल में फंसे इन बच्चों का हर तरह से शोषण किया जाता है.

ये भी पढ़ें - इलाज के लिए आश्रम गई थी दलित महिला, अब बाबा पर दुष्‍कर्म का लगाया आरोप

ये भी पढ़ें - रघुुवर सरकार से MoU : फ्लिपकार्ट अब देगा झारखंड के हुनरमंदों को बाजार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज