पारा शिक्षकों की हड़ताल के कारण 500 विद्यालय पूरी तरह से बंद

अभिभावकों का कहना है कि दो माह से स्कूल बंद है. बच्चों की पढ़ाई तो चौपट हो रही है और वह बच्चे खेल रहे हैं या गाय-बकरी चरा रहे हैं.

Neelkamal | News18 Jharkhand
Updated: January 8, 2019, 12:28 AM IST
पारा शिक्षकों की हड़ताल के कारण 500 विद्यालय पूरी तरह से बंद
स्कूल बंद होने के कारण गाय-बकरी चरा रहे ग्रामीण छात्र- छात्रा
Neelkamal
Neelkamal | News18 Jharkhand
Updated: January 8, 2019, 12:28 AM IST
पलामू में पारा शिक्षकों की हड़ताल के कारण 500 विद्यालय पूरी तरह से बंद हैं. चैनपुर प्रखंड का काराकाट बंदुआ विद्यालय हो या अलगडीहा प्राथमिक विद्यालय हो या चैनपुर का 174 अन्य विद्यालय सभी में ताले लटके हैं. हज़ारों बच्चों की पढ़ाई तो बाधित हो ही रही है वहीं उन्हें एक वक्त का भोजन जो मिड-डे मील के रूप में मिल जाता था, उसका वह भी छिन गया. इससे बच्चों के अभिभावकों में नाराजगी है. अभिभावकों का कहना है कि दो माह से स्कूल बंद है. बच्चों की पढ़ाई तो चौपट हो रही है और वह बच्चे खेल रहे हैं या गाय-बकरी चरा रहे हैं.

पारा शिक्षकों की हड़ताल से प्राथमिक शिक्षा चौपट है. ग्रामीणों का कहना है कि हम गरीबों के बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ हो रहा है. नौनिहाल एक वक्त के पौष्टिक भोजन से भी पिछले दो माह से महरूम हैं. पलामू जिले के सभी प्रखंडों में मिलाकर कुल 500 विद्यालय बंद हैं. कुल 57 सौ पारा शिक्षक 19 नवंबर से हड़ताल पर हैं, जिससे 1200 विद्यालय प्रभावित हैं. पलामू में एक तरफ पारा शिक्षकों का पारा कम होने का नाम नहीं ले रहा, दूसरी ओर राज्य सरकार भी अपने जिद्द पर है. दोनों पक्षों के बीच गरीबों के बच्चों का हर तरह नुकसान हो रहा है.



यह भी पढ़ें - गुमला: हाथियों के झुंड ने मां-बेटी को कुचला, ग्रामीणों में दहशत का माहौल

यह भी देखें - जमशेदपुर: गाना बजते ही कुछ इस तरह झूमने लगे सीएम रघुवर दास
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...