पलामू में इनामी नक्सली के खिलाफ ईडी की बड़ी कार्रवाई, करोड़ों की संपत्ति जब्त

नक्सली कमांडर अभिजीत पर झारखंड सरकार ने 5 लाख का इनाम घोषित कर रखा है.

नक्सली कमांडर अभिजीत पर झारखंड सरकार ने 5 लाख का इनाम घोषित कर रखा है.

Palamu News: ईडी की टीम ने नक्सली कमांडर अभिजीत यादव के 6 प्लॉट और एक मकान पर अपना बोर्ड लगा दिया है. मेदिनीनगर के निमिया और बैरिया में अंचलाधिकारी की मौजूदगी में जब्ती की कार्रवाई की गई.

  • Share this:

पलामू. झारखंड के पलामू जिले में माओवादी कमांडर महावीर यादव उर्फ अभिजीत यादव के खिलाफ ईडी (Enforce Directorate) ने बड़ी कार्रवाई की है. ईडी की टीम ने शुक्रवार को नक्सली कमांडर की करोड़ों की सम्पति को जब्त कर लिया. ये संपत्ति मेदिनीनगर, छतरपुर और हरिहरगंज में स्थित हैं.



जानकारी के मुताबिक ईडी की टीम ने नक्सली कमांडर अभिजीत यादव के 6 प्लॉट और एक मकान पर अपना बोर्ड लगा दिया है. मेदिनीनगर के निमिया और बैरिया में अंचलाधिकारी की मौजूदगी में जब्ती की कार्रवाई की गई. छतरपुर में तीन प्लॉट, हरिहरगंज में एक प्लॉट और एक अर्द्धनिर्मित मकान को जब्त किया गया. जब्त सम्पति को अभिजीत यादव ने अपनी पत्नी गीता देवी के नाम पर खरीदा रखा था.



बिहार और झारखंड में 55 मामले दर्ज



नक्सली कमांडर अभिजीत के खिलाफ बिहार और झारखंड में 55 मामले दर्ज हैं. पिछले 10 साल से वह दो राज्यों की पुलिस के लिए सिरदर्द बना हुआ है. झारखंड सरकार ने उस पर 5 लाख रुपए का इनाम घोषित कर रखा है. अभिजीत छतरपुर थानाक्षेत्र के बन्धुडीह गांव का रहने वाला है.


बारूदी सुरंग विस्फोट कर 7 जवानों को उड़ाया था



सबजोनल कमांडर अभिजीत यादव झारखंड के बड़े माओवादियों में से एक है. पिछले कई सालों से पुलिस उसे गिरफ्तार करने का प्रयास कर रही है. साल 2016 में पलामू के छतरपुर थानाक्षेत्र के काला पहाड़ इलाके में बारूदी सुरंग विस्फोट कर सात पुलिस जवानों की जान लेने के मामले में मुख्य आरोपी है. 2019 लोकसभा चुनाव के दौरान पिपरा बाज़ार में भाजपा नेता सह प्रखण्ड प्रमुख के पति को गोलियों से भुनने के मामले में भी वह नामजद है.


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज