किसी ने नहीं सुनी तब पूर्व मंत्री और ग्रामीणों ने मिल सड़क बनाई

एक किलोमीटर तक सड़क का निर्माण ग्रामीणों ने श्रमदान से किया. वहीं गांव में ग्रामीणों का हाथ बटाने पहुंचे पूर्व मंत्री केएन त्रिपाठी ने भी हाथ में कुदाल लेकर ग्रामीणों की मदद की.

Neelkamal
Updated: July 12, 2018, 12:27 AM IST
किसी ने नहीं सुनी तब पूर्व मंत्री और ग्रामीणों ने मिल सड़क बनाई
सड़क निर्माण में ग्रामीणों के साथ पूर्व मंत्री ने भी बटाया हाथ
Neelkamal
Updated: July 12, 2018, 12:27 AM IST
पलामू में ग्रामीणों के साथ मिलकर पूर्व मंत्री ने श्रमदान से सड़क का निर्माण किया. चैनपुर प्रखंड के बोडी पंचायत के घासी टोला में विद्यालय जाने के लिए सड़क नहीं थी. बार-बार विधायक व सांसद से ग्रामीण
सड़क निर्माण को लेकर गुहार लगाया करते थे. मगर उनकी किसी ने नहीं सुनी. हमेशा ही ग्रामीणों की मांगों को टाला जाता रहा. ग्रामीणों को कुछ सूझ ही नहीं रहा था कि वे अपनी समस्या का समाधान कैसे करें.

आखिरकार ग्रामीणों ने खुद श्रमदान से सड़क निर्माण का कार्य शुरू कर दिया. एक किलोमीटर तक सड़क का निर्माण ग्रामीणों ने श्रमदान से किया. वहीं गांव में ग्रामीणों का हाथ बटाने पहुंचे पूर्व मंत्री केएन त्रिपाठी ने भी हाथ में कुदाल लेकर ग्रामीणों की मदद की. पूर्व मंत्री द्वारा हाथ में कुदाल उठाए जाने से ग्रामीण और भी उत्साहित हो गए और उन्होंने अपने लिए सड़क बना ली.

इस मौके पर केएन त्रिपाठी ने कहा कि जनप्रतिनिधियों से गुहार लगाकर ग्रामीण थक चुके थे. इधर ग्रामीणों की माने तो विद्यालय जाने में बच्चों को काफी परेशानी होती थी. बरसात के मौसम में कीचड़ से होकर बच्चों व शिक्षकों विद्यालय जाना पड़ता था.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर