जमीन विवाद में बुजुर्ग की धारदार हथियार से हत्या, पहले भी हुए थे हमले

जमीन विवाद को लेकर रविवार देर एक बुजुर्ग की कुछ लोगों ने धारदार हथियार से हमला कर निर्मम हत्या कर दी.

News18 Jharkhand
Updated: July 23, 2019, 9:43 AM IST
जमीन विवाद में बुजुर्ग की धारदार हथियार से हत्या, पहले भी हुए थे हमले
पलामू: जमीन विवाद के चलते बुजुर्ग की धारदार हथियार से हत्या, पहले भी हो चुके थे हमला (सांकेतिक तस्वीर)
News18 Jharkhand
Updated: July 23, 2019, 9:43 AM IST
झारखंड के पलामू जिले में सतबरवा थाना क्षेत्र स्थित दूलसूलमा गांव में बीते रविवार को देर रात एक बुजुर्ग की कुछ लोगों ने धारदार हथियार से हमला कर निर्मम हत्या कर दी. घटना के पीछे जमीन विवाद होने कारण सामने आया है. इधर, घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पुहंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया है. साथ ही मामला दर्ज कर आरोपियों की छानबीन शुरू कर दी है.

जमीन विवाद को लेकर पहले भी हो चुके थे हमले

बता दें कि मृतक की पहचान 60 वर्षीय नागेश्वर सिंह के रूप में हुई है. मृतक की पत्नी राजमणि देवी ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि रिश्तेदार जानकी सिंह के साथ कई वर्षों से जमीन को लेकर विवाद चल रहा है. इसे लेकर साल 2007 में भी इन लोगों ने नागेश्वर (मृतक) को गोली मार दी थी, हालांकि लंबे इलाज के बाद वे ठीक हो गए थे.

क्राइम रिपोर्ट-crime report
सोते हुए रामेश्वर पर कर दिया धारदार हथियार से हमला (सांकेतिक तस्वीर)


सोते हुए रामेश्वर पर कर दिया हमला

राजमणि देवी ने बताया कि रविवार की रात उनके पति घर पहुंचे और थोड़ी देर के बाद खाना खाने की बात कही. इतना कहने के बाद वो कमरे में जाकर सो गए. तब ही रात करीब 8 बजे जानकी सिंह, उसका बेटा राधे सिंह, भतीजा निर्मल सिंह, उसका पुत्र और भतीजा गिरवर सिंह घर में आ धमके. इसके बाद नींद में ही उन लोगों ने नागेश्वर पर धारदार हथियार से हमला कर दिया, जिससे उनकी मौके पर मौत हो गई.

संबंधित मामले में एसआई विजय कुमार ने कहा कि शव को फिलहाल पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. मामले की छानबीन में जुटी पुलिस ने जल्द ही हत्या के आरोपियों की गिरफ्तारी का दावा किया है.
Loading...

ये भी पढ़ें:- लाल सलाम के बीच पंचतत्व में विलीन हुए राय दा 

भारतीय वन कानून में प्रस्तावित संशोधन के विरोध JMM का धरना

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पलामू से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 23, 2019, 8:14 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...