लाइव टीवी

शहीद लेफ्टिनेंट अनुराग शुक्ला का पैतृक गांव में हुआ अंतिम संस्कार

News18 Jharkhand
Updated: April 22, 2019, 6:01 PM IST
शहीद लेफ्टिनेंट अनुराग शुक्ला का पैतृक गांव में हुआ अंतिम संस्कार
शहीद लेफ्टिनेंट अनुराग शुक्ला का अंतिम संस्कार

परिजनों की माने तो अनुराग मददगार स्वभाव के थे. किसी के लिए कभी भी खड़े हो जाते थे.

  • Share this:
पलामू स्थित पैतृक गांव में शहीद लेफ्टिनेंट अनुराग शुक्ला का अंतिम संस्कार किया गया. इस दौरान कोयल नदी घाट पर हजारों लोगों की भीड़ उमड़ी. सभी ने नम आंखों से शहीद को श्रद्धांजलि दी. रविवार को शहीद का पार्थिव शरीर राजस्थान से रांची पहुंचा था.

रांची से सोमवार सुबह 10 बजे पार्थिव शरीर मेदिनीनगर के सिंगरा खुर्द गांव पहुंचा. गांव में शहीद के अंतिम दर्शन के लिए हजारों की भीड़ जुटी. बेटे को तिरंगा में लिपटा देखकर पूरा गांव फूट-फूट कर रोया. जनप्रतिनिधि, अधिकारी से लेकर आम लोगों ने शहीद को श्रद्धांजलि दी. बाद में कोयल नदी के तट पर शहीद शुक्ला का अंतिम संस्कार किया गया. आर्मी के जवानों ने सलामी देकर अपने इस जाबांज को अंतिम विदाई दी.

परिजनों की माने तो अनुराग मददगार स्वभाव के थे. किसी के लिए कभी भी खड़े हो जाते थे. यही कारण है कि राजस्थान में ट्रेनिंग के दौरान तालाब में डूबते तीन जवानों को बचाने में उन्होंने अपनी जान गवां दी.

अंतिम संस्कार में डीसी शांतनु अग्रहरि और एसपी इंद्रजीत महथा भी शामिल हुए. सांसद व बीजेपी प्रत्याशी बीडी राम, बीजेपी विधायक राधाकृष्ण किशोर और पूर्व मंत्री केएन त्रिपाठी ने भी श्रद्धांजलि देकर परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की.

राजस्थान के गंगानगर में ट्रेनिंग के दौरान डूब रहे तीन जवानों को बचाने के क्रम में लेफ्टिनेंट अनुराग शुक्ला शहीद हो गये. अपनी जान देकर उन्होंने तीनों जवानों की जान बचा ली.

रिपोर्ट- नील कमल

ये भी पढ़ें- गोड्डा: चलती बस से छुआ हाईटेंशन लाइन का तार, मासूम की मौत
Loading...

हाइटेंशन तार की चपेट में आने से दंपति की मौत

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पलामू से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 22, 2019, 6:00 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...