पलामू: क्वारंटाइन सेंटर में भर्ती शख्स ने गमछे का फंदा बनाकर कर ली खुदकुशी
Palamu News in Hindi

पलामू: क्वारंटाइन सेंटर में भर्ती शख्स ने गमछे का फंदा बनाकर कर ली खुदकुशी
झारखंड के सिमडेगा में आदिवासी ने की खुदकुशी.

डीसी डॉ शांतनु अग्रहरि ने बताया कि चार दिन पहले मृतक को क्वारंटाइन (Quarantine) पर रखा गया था. आत्महत्या (Suicide) के पीछे क्या कारण है, इसकी जांच की जा रही है.

  • Share this:
पलामू. क्वारंटाइन सेंटर (Quarantine Center) में रह रहे एक व्यक्ति ने फांसी लगाकर आत्महत्या (Suicide) कर ली. मृतक अयूब खान लेस्लीगंज थानाक्षेत्र के कोर्ट खास पथराही गांव में क्वारंटाइन सेंटर में भर्ती था. वह लेस्लीगंज कोर्ट खास गोपालगंज गांव का रहने वाला था. लातेहार के चंदवा में मजदूरी करता था. चार दिन पहले उसे क्वारंटाइन सेंटर में भर्ती कराया गया. जहां बुधवार शाम को उसने खिड़की में गमछे के सहारे फांसी लगाकर जान दे दी.

खिड़की से लटकी मिली लाश 

क्वारंटाइन सेंटर के जिस कमरे से मृतक की लाश मिली, उस कमरे में वह अकेले भर्ती था. कमरे के खिड़की में गमछे से बने फंदे में लटकी उसकी लाश मिली. घटना की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की छानबीन की. मौके पर डीसी डॉक्टर शांतनु अग्रहरी और एसपी अजय लिंडा ने भी पहुंच कर घटना की जानकारी ली.



डीसी डॉ शांतनु अग्रहरि ने बताया कि चार दिन पहले मृतक को क्वारंटाइन पर रखा गया था. आत्महत्या के पीछे क्या कारण है. इसकी जांच की जा रही है. एसपी अजय लिंडा ने भी बताया कि प्रथम दृष्टया  ये आत्महत्या का मामला प्रतीत होता है.
रिपोर्ट आई थी निगेटिव  

मृतक का कोरोना टेस्ट भी हुआ था और रिपोर्ट निगेटिव आई थी. डीसी के मुताबिक टेस्ट निगेटिव आने के बावजूद नियमानुसार उसे 14 दिन के क्वारंटाइन पर रखा गया था.

बता दें कि ऐसा है कि एक मामला राजधानी रांची में सामने आया. क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे युवक ने अस्पताल की छत से छलांग लगा दी. उधर, गिरिडीह में एक युवक ने खुद को कोरोना पॉजिटिव बताते हुए घर में आत्महत्या कर ली. इनके अलावा भी कोरोना के खौफ में सुसाइड करने के कई मामले सामने आए हैं.

रिपोर्ट- नीलकमल

ये भी पढ़ें- झारखंड में 4 नए पॉजिटिव केस, सूबे में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 49 हुई
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading