लाइव टीवी

Jharkhand Assembly Elections 2019: PM मोदी ने भी उठाया राम मंदिर का मुद्दा, बोले- कांग्रेस ने वोट बैंक के लिए लटकाए रखा

News18 Jharkhand
Updated: November 25, 2019, 2:00 PM IST

पीएम मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने कहा कि समय को टालते रहना और वोट लेते रहना कांग्रेस (Congress) के काम करने का तरीका रहा है.

  • Share this:
पलामू. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) ने झारखंड विधानसभा चुनाव (Jharkhand Assembly Election) के मद्देनजर मेदिनीनगर के चियांकी हवाईअड्डा मैदान में पहली चुनावी जनसभा को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने लातेहार नक्सली हमले में शहीद हुए पुलिस जवानों को श्रद्धांजलि दी. पीएम ने कहा कि यहां की जनता का प्यार मुझे बार-बार झारखंड आने को प्रेरित करता है. पलामू बीजेपी के लिए हमेशा से मजबूत किला रहा है. उन्‍होंने कहा कि पूरे भारत में कमल शान से खिला रहा है, तो यहां की जनता और कार्यकर्ता की बदौलत यह हुआ है. यहां का हर वर्ग कमल के साथ खड़ा रहा है. 80 के दशक में भी इस क्षेत्र में बीजेपी मजबूत थी. इसी भावना से बीजेपी झारखंड का विकास करती रही है. पिछले चुनाव और लोकसभा चुनाव में बीजेपी को भारी समर्थन मिला.

'कांग्रेस ने राम मंदिर विवाद को लटकाया'
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी झारखंड में राम मंदिर का मुद्दा उठाया. उन्‍होंने कहा कि समय को टालते रहना और वोट लेते रहना कांग्रेस के काम करने का तरीका रहा है. कांग्रेस ने अनुच्‍छेद 370 को लटकाए रखा था. कश्मीर में अनेक माताओं ने अपने सपूत खोए, इसके लिए कांग्रेस जिम्मेवार है. भगवान राम का जन्मभूमि विवाद भी दशकों से लटकाए रखा गया था. कांग्रेस चाहती तो समाधान निकाल सकती थी, लेकिन कांग्रेस ने अपने वोट बैंक की परवाह की. कांग्रेस के चलते ही समाज में दरार और दीवार बनी. अब बीजेपी 'एक भारत, श्रेष्‍ठ भारत' के लिए यह सब काम किया. बकौल पीएम मोदी, राम मंदिर से जुड़े विवाद का हल हो चुका है.

'पांच सूत्रों पर हुआ काम'

पीएम मोदी ने अपील करते हुए कहा कि झारखंड में दोबारा बीजेपी की सरकार बननी जरूरी है. यह झारखंड के लिए वैसा ही समय है, जैसे परिवार में बच्चों के भविष्य के लिए होता है. झारखंड भी युवा है. अभी जो दिशा उसे मिलेगी, इसके भविष्य पर बहुत प्रभाव पड़ेगा. बीते पांच साल में डबल इंजन की सरकार ने जो काम किए, उससे बनाये रखना जरूरी है. पिछले पांच साल में राज्य सरकार ने यहां पांच सूत्रों पर काम किया. ये सूत्र हैं स्थिरता, सुशासन, समृद्धि, सम्मान और सुरक्षा. उन्‍होंने दावा किया कि भाजपा ने झारखंड को स्थिर सरकार दी. भाजपा ने झारखंड में भ्रष्टाचार समाप्त करने के लिए दिन-रात काम किया है और पारदर्शी व्यवस्थाएं बनाई हैं. भाजपा ने झारखंड में समृद्धि का मार्ग खोला.

'नक्सलवाद का कारण अस्थिर सरकारें'
पीएम मोदी ने चुनावी रैली में कहा कि पांच साल पहले यहां नक्सलवाद और भ्रष्टाचार चरम पर था. शाम ढलने पर पलामू में जीवन थम जाता था. रांची से पलामू आना मुश्किल था. आज स्थिति करीब-करीब सामान्य हो गया है. लोग आराम से आ-जा रहे हैं. नक्सलवाद इसलिए था, क्योंकि सरकारें अस्थिर थीं. सरकारें पिछले दरवाजे से बनती थीं. स्वार्थी लोगों का एक ही उद्देश्य था सत्ता का भोग. एक बार फिर आपसे ये लोग वोट मांग रहे हैं. इन लोगों की नजर यहां की मिट्टी के अंदर की संपदा पर रही है. जमीन पर मौजूद लोगों पर नहीं, लेकिन पांच साल में स्थिति काफी बदली है. पहली बार किसी मुख्यमंत्री ने पांच साल का कार्यकाल पूरा किया. यहां जल्द ही एक स्टील प्लांट तैयार होगा. डिस्ट्रिक्ट मिनरल फंड से आदिवासियों के लिए पांच करोड़ खर्च किए जाएंगे. पीएम ने दावा किया कि बीजेपी इनके जल, जंगल और जमीन के हक पर कोई आंच नहीं आने देगी. राजा मेदिनी राय जी की तरह शासन देश और झारखंड को देने का बीजेपी का मकसद है.
Loading...

'लूटने वालों और काम करने वालों के बीच चुनाव'
पीएम मोदी ने कहा कि इन दलों और व्यक्तियों के बीच का चुनाव नहीं है. लूटने वालों और काम करने वालों के बीच, दो धाराओं और दो कार्यसंस्कृतियों के बीच का चुनाव है. बीजेपी ने जो वादे किये, उसे जमीन पर उतार रही है. कांग्रेस पर हमला बोलते हुए पीएम ने कहा कि उनके पास समस्या है, हमारे पास समाधान. उनके पास झूठे आरोप, हमारे पास काम की रिपोर्ट. उनके पास कोरी घोषणाएं, हमारे पास विकास की रिपोर्ट है. डबल इंजन की सरकार में ही 40 साल बाद मंडल डैम का काम शुरू हुआ. पीएम मोदी ने कहा कि अगली बार सरकार बनी, तो इसे जल्द पूरा किया जाएगा.

 

ये भी पढ़ें- राजनाथ बोले- राम मंदिर को लेकर पहले लोग ताना कसते थे, अब भव्य मंदिर बनेगा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पलामू से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 25, 2019, 1:35 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...