ये है स्वास्थ्य मंत्री के गृहजिले का हाल, जमीन पर होता है जच्चे-बच्चे का इलाज

जमीन पर जच्चा-बच्चा

महिला मरीजों की देखरेख करने वाली एएनएम के मुताबिक जच्चा- बच्चा, दोनों को फर्श पर रखने से संक्रमण हो सकता है.

  • Share this:
    पलामू स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी का गृहजिला है. एेसे में उम्मीद की जाती है कि यहां के सदर अस्पताल का हाल सुधरा हुआ हो. लेकिन एेसा है नहीं. यहां तक की प्रसव के लिए भर्ती महिलाओं को बेड तक नसीब नहीं होता है.

    डाल्टनगंज सदर अस्पताल के महिला वार्ड में बेड खाली नहीं होने के कारण प्रसव कराने लाई गईं करीब दो दर्जन महिलाओं का फर्श पर ही इलाज चल रहा है. यह जच्चा-बच्चा दोनों के लिए खतरनाक साबित हो सकता है. परिजनों की माने तो बेड के लिए लगातार प्रयास किये गये, मगर बेड मुहैया नहीं हुई. लिहाजा फर्श पर ही इलाज दिया जा रहा है. इतना ही नहीं नवजात को भी फर्श पर ही रखा जाता है.

    ग्रामीण इलाकों से इन महिला लाने वाली सहिया की माने तो काफी समझा बुझाकर वह मरीजों को अस्पताल लाती हैं, मगर व्यवस्था नहीं मिलने से मरीजों की खरी-खोटी उन्हें सुननी पड़ती है. महिला मरीजों की देखरेख करने वाली एएनएम के मुताबिक जच्चा- बच्चा, दोनों को फर्श पर रखने से संक्रमण हो सकता है. कई बार बेड को लेकर अस्पताल प्रबंधन को कहा गया, लेकिन मुहैया नहीं कराया गया.

    (नीलकमल की रिपोर्ट)

     

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.