पलामू: हादसे को दावत दे रहे हैं घरों के ऊपर से गुजरते हाईवोल्टेज तार

घरों की दिवारों में लगे हाईवोल्टेज तार

पिछले 2 साल में नंगे तारों की चपेट में आने से यहां कई लोगों की मौत हो चुकी है, बावजूद इसके बिजली विभाग सतर्क नहीं हो रहा है.

  • Share this:
    झारखंड के पलामू में बिजली विभाग की लापरवाही के कारण कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है. पिछले 2 साल में नंगे तारों की चपेट में आने से यहां कई लोगों की मौत हो चुकी है. बावजूद इसके बिजली विभाग सतर्क नहीं हो रहा है.

    डाल्टेनगंज शहर के रेडमा मोहल्ले में जर्जर तार लोगों को डराते हैं. रेडमा मोहल्ले में स्थित अनुसूचित जाति छात्रावास के नजदीक से 11 हजार वोल्ट का तार गुजरता है. यहां तार टूट कर गिरने से कई बार हादसे भी हो चुके हैं. हॉस्टल के छात्र मामले को लेकर कई बार प्रदर्शन भी कर चुके हैं.

    छात्रों का कहना है कि उन्हे तार गिरने का हमेशा डर सताता रहता है. हॉस्टल के छात्रों की मानें तो कई बार तार का रूट बदलने के लिए प्रशासन से मांग की गई, मगर विभाग ने अभी तक इस बात पर ध्यान नहीं दिया.

    इतना ही नहीं रेडमा मोहल्ले में 440 वोल्ट की तारों को भी नंगा छोड़ दिया गया है.  मोहल्ले में हाईवोल्टेज तारों का जाल सा बिछा हुआ है, ऐसे में किसी भी समय बड़े हादसे का खतरा बना हुआ है. स्थानीय निवासियों का कहना है कि उन्होंने बिजली विभाग के अधिकारियों से कई बार मामले की शिकायत की लेकिन उन्हें कोई राहत नहीं मिली.

    यह भी पढ़ें- पलामू: हाइटेंशन तार की चपेट में आने से दंपति की मौत

    ( पलामू से नीलकमल मेहरा की रिपोर्ट )

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.