तीन तलाक: ‘पीएम मोदी ने सती प्रथा जैसी बुराई को खत्म किया है’

जिस तरह से सती प्रथा पूरे देश पर एक कलंक थी, उसी तरह से तीन तलाक समाज पर बदनुमा दाग था. यह तलाक पीड़ित महिलाओं के लिए अच्छा कदम है.

News18Hindi
Updated: July 31, 2019, 12:53 PM IST
तीन तलाक: ‘पीएम मोदी ने सती प्रथा जैसी बुराई को खत्म किया है’
जिस तरह से सती प्रथा पूरे देश पर एक कलंक थी, उसी तरह से तीन तलाक समाज पर बदनुमा दाग था. यह तलाक पीड़ित महिलाओं के लिए अच्छा कदम है.
News18Hindi
Updated: July 31, 2019, 12:53 PM IST
यह सिर्फ तुरंत वाला तीन तलाक ही खत्म नहीं हुआ है, बल्कि पीएम नरेन्द्र मोदी ने सती प्रथा जैसी बुराई को खत्म किया है. जिस तरह से सती प्रथा पूरे देश पर एक कलंक थी, उसी तरह से तीन तलाक समाज पर बदनुमा दाग था. यह कहना है राफिया नाज़ का. राफिया देशभर में दौराकर बच्चों को योग सिखाती हैं. हाल ही में कुछ कट्टरपंथियों ने उन पर हमला भी किया था.

मंगलवार को राज्यसभा में तीन तलाक बिल पास होने पर खुशी जाहिर करते हुए राफिया नाज़ ने कहा, जब कुरान शरीफ में हराम और हलाल सब बताया गया है. तुरंत तीन तलाक को भी हराम कहा है तो फिर क्यों हम तीन तलाक का समर्थन करें. केन्द्र सरकार ने भी कोई गलत नहीं किया है.

यह उन मुस्लिम महिलाओं के लिए उठाया गया एक अच्छा कदम है जो तीन तलाक से पीड़ित होकर यहां-वहां ठोकर खाने को मजबूर थीं. कुछ लोग यह सवाल भी उठा रहे हैं कि अगर पति जेल चला जाएगा तो महिला को गुजारा भत्ता कौन देगा. मेरा मानना तो यह है कि ऐसे पति के भरोसे जिंदगी गुजारने के बजाए केन्द्र सरकार द्वारा चलाई जा रहीं योजनाओं का लाभ उठाकर अपने पैरों पर खड़े हों.

फोटो- योग सिखाने के चलते राफिया नाज़ कट्टरपंथियों के हमले का शिकार भी हो चुकी हैं.


गौरतलब रहे कि योगा अभियान चलाने वालीं राफिया नाज़ ने झारखण्ड दौरे के वक्त पीएम नरेन्द्र मोदी का स्वागत किया था. योग सिखाने, योग को प्रचारित करने और योग की अच्छाई बताने के चलते राफिया कट्टरपंथियों के निशाने पर भी रही हैं. उन पर हमला भी हो चुका है. आज की तारीख में राफिया स्कूलों में जा-जाकर लड़कियों और दूसरे बच्चों को योग सिखाती हैं.

ये भी पढ़ें: तीन तलाक: ‘बिल पास होते ही पीड़ित ही नहीं उनके मां-बाप ने भी की आतिशबाजी’

तीन तलाक: 'प्रधानमंत्री मोदी ने मुस्लिम महिलाओं को ताकत दी है'
First published: July 31, 2019, 12:53 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...