Home /News /jharkhand /

baby corn and sweet corn cultivation farmers income increasing maize farming very popular among kisan bruk

बेबी कॉर्न और स्वीट कॉर्न की खेती कर रामगढ़ के किसान हो रहे मालामाल! जानें पूरा हिसाब-किताब

Jharkhand News: झारखंड के रामगढ़ जिले में मक्के की खेती कर किसान लाखों का मुनाफा कमा रहे हैं.

Jharkhand News: झारखंड के रामगढ़ जिले में मक्के की खेती कर किसान लाखों का मुनाफा कमा रहे हैं.

Baby Corn Farming रामगढ़ जिले के किसान इन दिनों बेबी कॉर्न और स्वीट कॉर्न की खेती कर मालामाल हो रहे हैं. मक्के की खेती के अंतर्गत बेबी कॉर्न और स्वीट कॉर्न की उपज कर किसान लाखों का मुनाफा कमा रहे हैं.

रिपोर्ट- जावेद खान
रामगढ़. झारखंड के रामगढ़ जिले के किसान इन दिनों बेबी कॉर्न और स्वीट कॉर्न की खेती कर मालामाल हो रहे हैं. मक्के की खेती के अंतर्गत बेबी कॉर्न और स्वीट कॉर्न की उपज कर किसान लाखों का मुनाफा कमा रहे हैं. दरअसल रामगढ़ जिले के किसान मक्के की खेती करके आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर हो रहे हैं. किसान एक एकड़ में मक्के की खेती से 40000 रुपये तक की आमदनी कर रहे हैं.

जानकारी के अनुसार पूरे रामगढ़ जिले में करीब डेढ़ हजार हेक्टेयर भूमि पर मक्के की खेती की जाती है. यहां के किसान शंकर नस्ल के अलावे महंगे बेबी कॉर्न, स्वीट कॉर्न नस्ल की मक्के की खेती कर रहे हैं. मक्के की खेती रामगढ़ जिला के किसानों के लिए फायदे का सौदा साबित हो रहा है.

इन जिलों में खूब है रामगढ़ के मक्के की डिमांड 

दरअसल रामगढ़ से मक्के की सप्लाई विदेशों तक की जाती है. साथ ही रामगढ़ जिले से उत्पादित मकई की डिमांड उत्तर प्रदेश, बिहार, बंगाल, उड़ीसा के अलावे झारखंड के विभिन्न जिलों में खूब  है. इस बारे में मांडु कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक डॉ दुष्यंत राघव ने बताया कि जिले के किसान शंकर नस्ल के अलावा महंगे स्वीट कॉर्न और बेबी कॉर्न नस्ल की मक्के की खेती करके आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर हो रहे हैं. दरअसल बाजार में मक्के के अलग-अलग किस्मों के फसल की अच्छी कीमत भी मिलती है.

एक एकड़ की खेती है होती है इतनी कमाई 

डॉ दुष्यंत राघव ने बताया कि जिले में डेढ़ हज़ार हेक्टेयर भूमि पर मक्के की खेती की जाती है. किसान एक एकड़ में मक्के की खेती से करीब 40000 रुपये तक कमा लेते हैं. यानि ढाई एकड़ की खेती में किसानों को एक लाख रुपये तक की आमदनी हो सकती है. कुंदरू कला के किसान राजदीप महतो ने 5 एकड़ जमीन में मक्के की खेती की है. लगभग 3 एकड़ पर बेबी कॉर्न नस्ल की मकई लगाई है. बता दें, बेबी कॉर्न का बीज़ डेढ़ हजार रुपये किलो मिलता है, फिलहाल बाजार में हरा मकई उपलब्ध है. रामगढ़ के गोला, दुलमी और चितरपुर प्रखंड के किसान मकई की ज्यादा खेती करते हैं. कृषि वैज्ञानिक ने बताया कि किसानों को मकई की नई नस्लों के बावत जानकारी दी जाती है साथ ही उचित प्रशिक्षण भी दिया जाता है.

Tags: Farmer Income Doubled, Jharkhand news, Ramgarh news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर