• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • झारखंड के इस मंदिर में फूल-प्रसाद के बदले भक्त चढ़ाते हैं पत्थर, पूरी होती है हर मनोकामना

झारखंड के इस मंदिर में फूल-प्रसाद के बदले भक्त चढ़ाते हैं पत्थर, पूरी होती है हर मनोकामना

रामगढ़ में पतरातू डैम के पास स्थित पंच बहिनी मंदिर में भक्त मां को पत्थर चढ़ाते हैं.

रामगढ़ में पतरातू डैम के पास स्थित पंच बहिनी मंदिर में भक्त मां को पत्थर चढ़ाते हैं.

Ramgarh News: ग्रामीणों के मुताबिक पतरातू डैम के निर्माण के समय साल 1962 में इस मंदिर की स्थापना की गई. तब से यहां पत्थर चढ़ाने की परंपरा जारी है.

  • Share this:

    रिपोर्ट- जावेद खान

    रामगढ़. झारखंड के रामगढ़ जिले में स्थित पतरातू डैम के पास स्थापित मां पंच बहिनी मंदिर में मनोकामना पूरी होने के लिए भक्त फूल-प्रसाद के बदले पत्थर चढ़ाते हैं. और मनोकामना पूर्ण होने के बाद उस पत्थर को पास बह रही नलकारी नदी में प्रवाहित कर देते हैं. ग्रामीणों के मुताबिक डैम के निर्माण के समय सन 1962 में इस मंदिर की स्थापना की गई. तब से पत्थर चढ़ाने की परंपरा जारी है.

    गांववालों ने बताया कि गांव के एक शख्स को सपना आया कि जो भी भक्त इस मंदिर में देवी के चरणों में पत्थर समर्पित करगा, उसकी हर मनोकामना पूरी हो जाएगी. इसके बाद से मनोकामना पूर्ण होने के लिए लोग इस मंदिर में माता को पत्थर अर्पित करते आ रहे हैं. मंदिर में दूर-दूर से लोग आकर पत्थर चढ़ाते हैं.

    ग्रामीणों के मुताबिक पहले डैम के मुख्य गेट के पास ऊंचे टीले पर मां का पांच चट्टान स्थापित था. डैम के निर्माण के समय दिक्कत आई, तो इन्हें गेट के ठीक बगल मंदिर में स्थापित किया गया. उसके बाद डैम का बांध बिना बाधा के संपन्न हो पाया. डैम निर्माण के बाद मंदिर को फाटक के ठीक बगल में स्थापित किया गया. हालांकि उससे पहले 300 वर्षो से उन पांच चट्टानों की पूजा ग्रामीण करते आ रहे थे.

    पंच बहिनी मंदिर के पुजारी शशि प्रकाश मिश्रा ने बताया कि जब 60 के दशक में डैम का निर्माण हो रहा था, तब डैम के मुख्य फाटक के पास निर्माण कार्य में बार-बार बाधा उत्पन्न हो रही थी. लेकिन जैसे ही ऊंचे टीले पर पांच पत्थरों के रूप में मौजूद देवियों को मंदिर बनाकर स्थापित किया गया, डैम का निर्माण बिना बाधा के संपन्न हो गया.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज