Assembly Banner 2021

झारखंड: गांव के तालाब में डूबने से एक ही परिवार के तीन बच्चों की मौत

 थाना प्रभारी अवधेश कुमार ने कहा कि बच्चों के शवों को पोस्टमार्टम (Postmortem) के लिए भेज दिया गया है और जांच शुरू कर दी गई है. (सांकेतिक फोटो)

थाना प्रभारी अवधेश कुमार ने कहा कि बच्चों के शवों को पोस्टमार्टम (Postmortem) के लिए भेज दिया गया है और जांच शुरू कर दी गई है. (सांकेतिक फोटो)

रजक ने बताया कि बच्चे का पैर फिसल गया और वह पानी में डूबने लगा जिसके बाद अन्य दो बच्चे भी उसे बचाने के लिए तालाब (Pond) में कूद पड़े और डूबने से उनकी भी मौत हो गई.

  • Share this:
रामगढ़.  झारखंड के रामगढ़ जिले (Ramgarh District) में एक ही परिवार के तीन बच्चों की तालाब में डूबने से मौत हो गई. खंड विकास अधिकारी (बीडीओ), गोला, अजय कुमार रजक ने कहा कि मगनपुर गांव में शनिवार को एक तालाब के किनारे तीनों बच्चे खेल रहे थे और उनमें से एक हाथ धोने के लिए तालाब के पास गया. रजक ने बताया कि बच्चे का पैर फिसल गया और वह पानी में डूबने लगा जिसके बाद अन्य दो बच्चे भी उसे बचाने के लिए तालाब (Pond) में कूद पड़े और डूबने से उनकी भी मौत हो गई. स्थानीय ग्रामीणों ने बच्चों के शवों को तालाब से बाहर निकाला और पुलिस को घटना की सूचना दी. गोला पुलिस थाना प्रभारी अवधेश कुमार ने कहा कि बच्चों के शवों को पोस्टमार्टम (Postmortem) के लिए भेज दिया गया है और जांच शुरू कर दी गई है.

बता दें कि पिछले साल दुमका जिले के हंसडीहा थाना क्षेत्र के धनवे गांव स्थित जोकी बांध तालाब में डूबने से दो मासूमों की मौत हो गयी थी. मृतक की पहचान 10 वर्षीय गुलशन कुमार और 8 वर्षीय अंकित कुमार के रूप में हुई थी. दोनों बेहराड़ीह गांव के रहने वाले थे. जानकारी के मुताबिक, गांव के 5 बच्चे नहाने के लिए जोकी बांध तालाब गए थे. स्नान करने के दौरान गुलशन और अंकित गहरे पानी में चले गये. और डूबने लगे. दोनों को डूबता देख बाकी तीन बच्चों ने शोर मचाना शुरू कर दिया. लेकिन सुनसान जगह होने के कारण मदद के लिए कोई नहीं आया. दोनों बच्चों की डूबने से मौत हो गई थी.

गांव में पसरा मातम
तीनों बच्चे गांव जाकर घटना की जानकारी गांववालों को दी थी. सूचना मिलते ही ग्रामीण तालाब के पास पहुंचे और खोजबीन के बाद दोनों शवों को बाहर निकाला था. घटना के बाद दोनों के परिजनों को रो-रो कर बुरा हाल हो गया था. एक साथ दो मासूम की मौत से गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ था. मृतक अंकित के पिता अजय मिर्धा ने बताया कि वह मजदूरी करने के लिए चले गये थे. इसी बीच अंकित दोस्तों के साथ तालाब नहाने चला गया. वह तैरना नहीं जानता था. गहरे पानी में चले जाने के वह डूब गया. अंकित इकलौता भाई था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज