अपना शहर चुनें

States

मेडिकल छात्रा पूजा भारती मर्डर मामले में रामगढ़ पुलिस का बड़ा खुलासा- कहीं और हत्या कर शव को पतरातु डैम में फेंका गया

हजारीबाग मेडिकल कॉलेज की छात्रा पूजा भारती का शव 12 जनवरी को रामगढ़ के पतरातु डैम में तैरता हुआ मिला था.
हजारीबाग मेडिकल कॉलेज की छात्रा पूजा भारती का शव 12 जनवरी को रामगढ़ के पतरातु डैम में तैरता हुआ मिला था.

Medical Student Puja Bharti Murder: डीजीपी एमवी राव ने दावा किया है कि मेडिकल छात्रा हत्याकांड की गुत्थी 72 घंटे के अंदर सुलझा ली जाएगी. इस मामले में हजारीबाग व रामगढ़ पुलिस की जांच अंतिम चरण में है.

  • Share this:
रामगढ़. झारखंड के रामगढ़ में मेडिकल छात्रा पूजा भारती की हत्या (Medical Student Murder) के मामले में घटना के 5 दिन बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं. एसआईटी मामले की जांच में जुटी हुई है. इस बीच रविवार को रामगढ़ के एसडीपीओ प्रकाश चंद्र ने बताया कि जांच में ऐसा प्रतीत हो रहा है कि मेडिकल छात्रा की कहीं और हत्या की गई और शव को लाकर पतरातू डैम (Patratu Dam) में फेंक दिया गया. पुलिस जल्द ही मामले का खुलासा करेगी.

डैम में 12 जनवरी को मिला था शव

बता दें कि हजारीबाग मेडिकल कॉलेज की छात्रा पूजा भारती का शव हाथ- पैर बंधे हालत में गत 12 जनवरी को पतरातू डैम में तैरता हुआ पाया गया था. पुलिस स्पेशल टीम गठित कर मामले की छानबीन में जुटी है. शनिवार को रामगढ़ पहुंचे डीजीपी एमवी राव ने दावा किया कि मेडिकल छात्रा हत्याकांड की गुत्थी 72 घंटे के अंदर सुलझा ली जाएगी. हजारीबाग व रामगढ़ पुलिस की टीम की जांच अंतिम चरण में है.



दो लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ 
उधर हजारीबाग पुलिस ने इस सिलसिले में दो ऑटोरिक्शा ड्राइवरों को हिरासत में लिया है. उनसे पूछताछ की जा रही है. ये वही ऑटोरिक्शा वाले हैं, जिन्होंने 12 जनवरी को पूजा भारती को रांची जाने के लिए बस में बिठाया था. पुलिस ने हजारीबाग मेडिकल कॉलेज में छात्रा के हॉस्टल के कमरे को सील कर दिया है. वहां से उसके सेल फोन, डायरी, लैपटॉप और कुछ दस्तावेजों जब्त किये गये हैं.



गोड्डा में माता-पिता से पूछताछ

मृतका गोड्डा जिले की रहने वाली थी. एसआइटी ने गोड्डा जाकर छात्रा के माता-पिता से पूछताछ की है. इस दौरान मां अर्चना देवी ने बताया कि पूजा रोजाना सुबह, दोपहर और रात में वीडियो कॉल करती थी. घटना के दिन भी उसने सुबह साढ़े आठ बजे वीडियो कॉल किया. और कहा था कि तीन बजे तक परीक्षा चलेगी, इसके बाद फिर कॉल करेगी. लेकिन फोन नहीं आया. अगले दिन उसका शव डैम से बरामद हुआ. घरवालों का आरोप है कि कॉलेज प्रबंधन की लापरवाही से उनकी बेटी की जान गई. पूजा फर्स्ट सेमेस्टर की छात्रा थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज