Home /News /jharkhand /

मोहब्बत के दुश्मनः प्रेमी के साथ भागी नाबालिग तो परिवार का हुक्का-पानी बंद, कुएं से पानी भरने पर भी लगाई रोक

मोहब्बत के दुश्मनः प्रेमी के साथ भागी नाबालिग तो परिवार का हुक्का-पानी बंद, कुएं से पानी भरने पर भी लगाई रोक

रामगढ़ में दूसरी जाति से प्रेम करने वाली युवती के परिवार को सामाजिक बहिष्‍कार का सामना करना पड़ रहा है. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

रामगढ़ में दूसरी जाति से प्रेम करने वाली युवती के परिवार को सामाजिक बहिष्‍कार का सामना करना पड़ रहा है. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

Social Boycott In Ramgarh: रामगढ़ जिले में सामाजिक बर्बरता और तुगलकी फरमान जारी करने की एक शर्मनाक खबर सामने आई है. जिले के एक गांव में एक किशोरी को दूसरी जाति के प्रेमी संग भाग कर शादी कर लेने की सजा समाज उसके परिवार के लोगों को दे रहा है. समाज ने किशोरी के परिवार का सामाजिक बहिष्कार कर दिया है. यहां तक कि सार्वजनिक कुएं से उनके पानी लेने पर भी रोक लगा दी. इससे परेशान युवती के परिजनों ने न्‍याय न मिलने पर सामूहिक आत्‍मदाह करने की चेतावनी दी है.

अधिक पढ़ें ...

    रिपोर्ट – जावेद खान

    रामगढ़. कहते हैं प्‍यार का कोई मजहब या जाति नहीं होती है, लेकिन प्यार करना कई बार लोगों को काफी महंगा भी पड़ जाता है. ऐसे जोड़ों, उनके परिवारों को सामाजिक स्‍तर पर कई तरह की परेशानियों का भी सामना करना पड़ता है. ऐसा ही एक मामला रामगढ़ जिले में सामने आया है. यहां एक नाबालिग युवती और उनके परिजनों के लिए दूसरी जाति के युवक से प्‍यार करना और फिर शादी करना परेशानी का सबब बन गया. समाज के लोगों ने युवती और उनके परिवार का सामाजिक बहिष्कार का ऐलान करते हुए उनका हुक्‍का-पानी तक बंद कर दिया है. बताया जाता है कि कुएं से उनके पानी लेने तक पर रोक लगा दी गई है.

    यह मामला बड़काकाना ओपी क्षेत्र के हेहल गांव का है. यहां एक युवती के दूसरी जाति के युवक के साथ भागने पर स्‍थानीय लोगों ने कड़ा कदम उठाया है. समाज ने तुगलकी फरमान जारी करते हुए युवती के परिवार का सामाजिक बहिष्कार कर दिया है. पीड़ित परिवार के लोगों ने बताया गया कि उनकी बेटी पिछले दिनों अपने प्रेमी के साथ कहीं चली गई थी, जिसकी सूचना बड़काकाना ओपी पुलिस को दी गई थी. पुलिस ने कार्रवाई करते हुए रामगढ़ के सांडी स्थान से दोनों को हिरासत में ले लिया था. युवक और युवती के परिजनों के बीच आपसी सहमति से नाबालिग बच्चों को उनके परिजनों को सौंप दिया गया था.

    किसी की सरकारी नौकरी गई तो किसी की सदमे में गई जान, झूठे अपहरण के केस में तबाह हुआ 5 परिवार, 18 साल बाद खुलासा

    त्रस्त परिवार ने दी सामूहिक आत्मदाह की चेतावनी

    इस घटना के बाद युवती के परिजनों का उनके समाज के लोगों द्वारा सामाजिक बहिष्कार कर दिया गया. युवती के परिवार पर कई तरह की पाबंदियां लगा दी गईं. समाज के तुगलकी फरमान के तहत लड़की के परिजनों को सार्वजनिक कुएं से पानी लेने पर भी रोक लगा दी गई. इसके कारण लड़की के परिजन काफी परेशान हैं. मामले की जानकारी बड़काकाना पुलिस को पीड़ित परिवार द्वारा दिया गया है. पीड़ित परिवार ने न्याय न मिलने पर सामूहिक आत्मदाह की धमकी दी है.

    पुलिस बोली- करेंगे कार्रवाई

    रामगढ़ नगर परिषद के वार्ड पार्षद प्रदीप शर्मा ने कह कि मामले की जानकारी मिली है. इस पर दोनों पक्ष के लोगों को सामाजिक स्तर पर समझाने का प्रयास किया जाएगा. यह मामला पुरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है. बड़काकाना ओपी थाना प्रभारी मंटू चौधरी ने बताया कि मामला उनके संज्ञान में आया है. इस मामले में कर्रवाई की जाएगी. लड़की की मां रेणु देवी ने बताया कि कुएं से पानी भी नहीं लेने दिया जा रहा है. उन्‍होंने बताया कि यदि न्याय नहीं मिला तो उनका परिवार सामूहिक रूप से आत्मदाह कर लेगा.

    Tags: Jharkhand news, Ramgarh news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर