Home /News /jharkhand /

अलीमुद्दीन हत्याकांड में सजा के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन

अलीमुद्दीन हत्याकांड में सजा के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन

सजा के खिलाफ लोगों का प्रदर्शन

सजा के खिलाफ लोगों का प्रदर्शन

जुलूस पूरे शहर में घुमा, जिसके बाद कई लोग मुंडन कराकर पूर्व विधायक शंकर चौधरी के नेतृत्व में 15 दिवसीय धरने पर बैठ गये हैं

    अलीमुद्दीन हत्याकांड में 11 लोगों को आजीवन कारावास की सजा सुनाये जाने के खिलाफ मंगलवार को रामगढ़ में सैकड़ों लोगों ने सड़क पर उतर कर विरोध प्रदर्शन किया. हाथ में तिरंगा थामे महिला और पुरुषों ने इस मामले में सीबीआई जांच की मांग की.

    विरोध का जुलूस पूरे शहर में घुमा, जिसके बाद कई लोग मुंडन कराकर पूर्व विधायक शंकर चौधरी के नेतृत्व में 15 दिवसीय धरने पर बैठ गये हैं. बता दें कि कुछ दिन पहले केंद्रीय नागरिक उड्ड्यन राज्य मंत्री जयन्त सिन्हा ने इस मामले में सीबीआई जांच की बात कही थी और इसके लिए सीएम को पत्र लिखने का भी उन्होंने जिक्र किया था.

    दरअसल बीफ ले जाने के आरोप में भीड़ द्वारा पीट-पीट कर हत्या करने के मामले में रामगढ़ की फास्ट ट्रैक कोर्ट ने सभी 11 दोषियों को उम्र कैद की सजा सुनाई. कोर्ट ने बीते 16 मार्च को आरोपियों को दोषी करार दिया था. भारतीय दंड संहिता की धारा (आईपीसी) 147, 148. 149, 421, 431, 302 व 102 के तहत सभी आरोपियों को दोषी पाया गया.

    इस मामले में कुल 12 लोगों को अभियुक्त बनाया गया था. लेकिन एक आरोपी के नाबालिग होने के कारण उसके खिलाफ जुवेनाइल कोर्ट में सुनवाई चल रही है. गौरतलब है कि रामगढ़ जिले के मनुआ फुलसराय के रहने वाले अलीमुद्दीन की हत्या 29 जून 2017 को कर दी गयी थी. मारूति वैन से बीफ ले जाने के आरोप में भीड़ ने अलीमुद्दीन की पीट-पीट कर हत्या बाजार टांड स्थित गैस एजेंसी के पास कर दी थी.

    (जयंत की रिपोर्ट)

     

    Tags: Ramgarh news, Tiranga yatra

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर