अपना शहर चुनें

States

समाजसेवी संजीव बघेल की हत्या, बदमाशों ने कार रूकवाकर दाग दीं 7 गोलियां

रामगढ़ के उरीमारी थाना क्षेत्र के डीएवी मोड़ के पास अज्ञात हमलावरों ने पहले कार रूकवाई, फिर संजीव पर गोलियां बरसा दीं. इस हमले के पीछे गैंगवार और रंगदारी को वजह बताया जा रहा है.

  • Share this:
झारखंड के रामगढ़ में अपराधियों ने समाजसेवी संजीव सिंह बघेल को गोली मार दी. आनन-फानन में उन्हें रांची लाकर मेडिका में भर्ती कराया गया, जहां उनकी मौत हो गई. बुधवार सुबह संजीव बच्चों को स्कूल छोड़कर कार से घर लौट रहे थे, तभी उनपर ये हमला हुआ.

जानकारी के मुताबिक रामगढ़ के उरीमारी थाना क्षेत्र के डीएवी मोड़ के पास अज्ञात हमलावरों ने पहले कार रूकवाई, फिर संजीव पर गोलियां बरसा दीं. घटना सुबह आठ बजे की है. इस हमले के पीछे गैंगवार और रंगदारी को वजह बताया जा रहा है. हत्या के विरोध में लोगों ने भुरकुंडा बाजार बंद करा दिया.

घटना के बाद हजारीबाग और रामगढ़ जिले को सील कर पुलिस छापेमारी कर दी है. पुलिस के मुताबिक बघेल को सात से अधिक गोली मारी गई. गोली मारने के बाद अपराधी मुख्य सड़क से होकर भाग गए. पुलिस ने घटना स्थल से 6 खोखा और चार गोलियां बरामद किये हैं. एक बोलेरो को भी जब्त किया गया है.



संजीव सिंह बघेल मुख्य रूप से उत्तर प्रदेश के रहने वाले थे. कई वर्षो से उरीमारी के पोडा गेट सयाल में अपने परिवार के साथ रह रहे थे. गौरतलब है कि पिछले वर्ष दिसंबर माह में निशि पांडेय के एक और समर्थक राजू चौधरी की हत्या कर दी गई थी. बघेल भी निशि पांडेय का समर्थक था. पुलिस इस मामले में गैंगवार सहित अन्य पहलूओं पर जांच कर रही है.
जयंत कुमार की रिपोर्ट

ये भी पढ़ें- शुभम हत्याकांड : चार दिन में आरोपी गिरफ्तार नहीं हुए तो भूख हड़ताल करूंगा- सामड़

पिकनिक मनाकर लौट रही छात्राओं को बदमाशों ने घेरा, एक से सामूहिक दुष्कर्म
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज