Home /News /jharkhand /

1932 khatiyan politics become hot potato jmm mla lobin hembrom demands assembly special session nodmk3

JMM विधायक बोले- सच बोलना यदि बगावत है तो समझो हम बागी हैं

झारखंड में खतियान आधारित नई नीति लागू करने का मुद्दा जोर पकड़ता जा रहा है. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

झारखंड में खतियान आधारित नई नीति लागू करने का मुद्दा जोर पकड़ता जा रहा है. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

Jharkhand News: झारखंड में 1932 के खतियान पर आधारित स्‍थानीय नीति लागू करने का मुद्दा गरमाता जा रहा है. झारखंड मुक्ति मोर्चा के विधायक लोबिन हेम्‍ब्रम ने इस मसले पर तल्‍ख तेवर अपना लिया है. उन्‍होंने कहा कि यदि सच बोलना बगावत है तो समझो मैं बागी हूं. लोबिन हेम्‍ब्रम लगातार खतियान आधारित स्‍थानीय नीति लागू करने की मांग कर रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

रांची. झारखंड में 1932 के खतियान पर आधारित स्‍थानीय नीति लागू करने की मांग लगातार मुखर होती जा रही है. सत्‍तारूढ़ झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) के विधायक भी इसकी मांग कर रहे हैं, जिससे हेमंत सोरेन की सरकार पर दबाव बढ़ता जा रहा है. इस बीच जेएमएम विधायक लोबिन हेम्‍ब्रम ने इस मसले पर सख्‍त रुख अपना लिया है. उन्‍होंने स्‍पष्‍ट शब्‍दों में कहा कि सच बोलना यदि बगावत है तो समझो मैं बागी हूं. लोबिन हेम्‍ब्रम सरकार और स्‍थानीय प्रशासन के रवैये से भी खासे नाराज दिखे. उन्‍होंने कहा कि मैं 5 अप्रैल को पाकुड़ में आमसभा करने के बाद रांची आया हूं. मुझ पर कुछ लोगों ने आरोप लगाया कि यह मेरा व्यक्तिगत कार्यक्रम है. जिला कार्यकर्ताओं से लेकर राज्य स्तर तक के कार्यकर्ताओं को कहा गया है कि वे मेरे कार्यक्रम में शामिल न हों.

विधायक लोबिन हेम्‍ब्रम ने बताया कि बोरिया प्रखंड कार्यालय के बगल में कार्यक्रम आयोजित होना निश्चित हुआ था, लेकिन ऐन वक्त पर BDO ने आकर कहा को ऊपर से आदेश आया है कि यहां जनसभा आयोजित नहीं करना है. इसके बाद एक कॉलेज में कार्यक्रम आयोजित करने का फैसला किया गया. लोबिन हेम्‍ब्रम का कहना है कि हमलोगों ने रातभर में मंच तैयार किया था, लेकिन जिला प्रशासन सभी चेक नाका पर फोर्स तैनात कर द‍िया. बच्चे-बूढ़े सभी का मेरे पास कॉल आने लगा की दादा हमलोग को आने नहीं दिया जा रहा है. इसके बाद मैंने उनलोगों से कहा कि कहा वे पैदल ही कार्यक्रम स्थल तक आ जाएं. झामुमो विधायक ने बताया कि ऐसे में आधे से अधिक लोग कार्यक्रम में नहीं पहुंच सके.

‘मेरा मुद्दा- खतियान आधारित स्‍थानीय नीति’
लोबिन हेम्‍ब्रम ने बताया कि उनका मुद्दा खतियान आधारित स्थानीय नीति है. इसी को लेकर कार्यक्रम आयोजित किया था. मुझे विश्वास नहीं हुआ की इस कार्यक्रम में इतना अधिक लोग शामिल होंगे. मैने मंच से ही प्रशासन को बताया कि किसी भी जनता को परेशानी नहीं होनी चाहिए. जब कार्यक्रम समाप्त हुआ तो मैंने प्रशासन से बात किया की इस कार्यक्रम आयोजित स्थल पर लोग को पहुंचने नहीं दिया जा रहा है, इसका कारण क्या है? जेएमएम विधायक ने बताया कि इस सवाल पर अधिकारी ने बताया कि ऊपर से आदेश था.

Tags: CM Hemant Soren, Jharkhand news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर