रांची: सरकारी स्कूल के छात्रावास में एक साथ 25 छात्राएं निकलीं कोरोना पॉजिटिव, प्रशासन की उड़ी नींद

25 छात्राओं के एक साथ कोरोना पॉजिटिव पाये जाने के बाद प्रशासन ने छात्रावास को सील कर दिया है. (सांकेतिक तस्वीर)

25 छात्राओं के एक साथ कोरोना पॉजिटिव पाये जाने के बाद प्रशासन ने छात्रावास को सील कर दिया है. (सांकेतिक तस्वीर)

Ranchi Corona Update: रांची के बुंडू स्थित इंदिरा गांधी आवासीय विद्यालय के 96 छात्राओं का सैम्पल लेकर कोविड-19 जांच की गई, तो 25 छात्राएं कोरोना संक्रमित निकलीं.

  • Share this:
रांची. झारखंड में लगातार कोरोना संक्रमण (Corona) विकराल रूप लेता जा रहा है, वहीं राजधानी रांची कोरोना संक्रमण के केंद्र में है. गुरुवार को रांची के बुंडू स्थित इंदिरा गांधी आवासीय विद्यालय के 96 छात्राओं का सैम्पल लेकर कोविड-19 जांच की गई, तो 25 छात्राएं कोरोना संक्रमित निकलीं. आनन- फानन में मेडिकल टीम भेजकर छात्राओं का इलाज शुरू किया गया. सभी का कांटेक्ट हिस्ट्री लेने में प्रशासन जुटा है. छात्रावास को सील कर दिया गया है.

25 छात्राओं के कोरोना पॉजिटिव मिलने की पुष्टि करते हुए रांची के सिविल सर्जन डॉ वीबी प्रसाद ने कहा कि स्वास्थ्य महकमा पूरी तरह चौकस है. बुंडू के लिए विशेष टीम बना दी गयी है. सभी छात्राओं को आइसोलेट कर उनके स्वास्थ्य की जांच की जा रही है. पर्याप्त मात्रा में दवा का किट उपलब्ध करा दिया गया है.

स्वास्थ्य सचिव ने जिलों के डीसी को लिखी चिट्ठी

स्वास्थ्य सचिव केके सोन ने सभी जिलों के उपायुक्त को पत्र लिखकर covid-19 संक्रमण के प्रसार को रोकने और बचाव के लिए होम आइसोलेशन के प्रोटोकॉल का पालन करने को कहा है. सचिव ने कहा है कि कोविड- 19 के मरीजों के लिए जरूरत के अनुसार अधिसूचित अस्पतालों में ऑक्सीजन और वेंटिलेटर का उपयोग सुनिश्चित किया जाए. मध्यम एवं गंभीर रूप से संक्रमित मरीजों को बेड मिल सके, इसके लिए जुलाई 2020 में जारी गाइडलाइन फ़ॉर होम आइसोलेशन का पालन किया जाए. जिसके तहत बिना लक्षण वाले या असिम्प्टोमैटिक मरीजों को होम आइसोलेशन में रखकर उनके अनुश्रवण, चिकित्सीय परामर्श और दवा किट की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए. राज्य में हो रही कोरोना सैम्पल जांच में हर SRF ID की रिपोर्ट के साथ सैम्पल कलेक्शन की तिथि के साथ- साथ रिपोर्ट की तिथि भी अनिवार्य रूप से हो.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज