जून में झारखंड तरबतर, आधे महीने में 93 फीसदी ज़्यादा बारिश, क्या है नफा-नुकसान?

न्यूज़18 कार्टून

Monsoon in Jharkhand : वेदर चैनल की भविष्यवाणी है कि शुक्रवार को दक्षिणी झारखंड में भारी बारिश हो सकती है, जबकि मौसम विभाग का अनुमान है कि शुक्रवार ही नहीं, शनिवार को भी राज्य के कई इलाकों में तेज़ बारिश का दौर जारी रहेगा.

  • Share this:
रांची. जून का महीने में अभी करीब दो हफ्ते बचे हैं, लेकिन इस महीने में झारखंड ज़रूरत से ज़्यादा तरबतर हो चुका है. पिछले तीन दिनों में भारी बारिश होने के चलते झारखंड में जून में अब तक 93 फीसदी अतिरिक्त बारिश हो चुकी है. निचले इलाकों में बाढ़ जैसे हालात बन चुके हैं, तो कई पुलों के ध्वस्त होने और कई सड़कों के टूट जाने की खबरें आ चुकी हैं. नदियां और बांध भी लबालब हो चुके हैं और छलक रहे हैं. इधर, जानकारों का कहना है कि इस बारिश से खरीफ की फसल को काफ़ी फ़ायदा हो सकता है.

मौसम विभाग के अधिकारियों के हवाले से खबरों में कहा गया है कि इस तरह तेज़ बारिश का दौर 48 घंटों तक जारी रह सकता है. राज्य में जून के महीने में 77.88 मिलीमीटर बारिश औसत मानी जाती है, लेकिन 1 जून से 17 जून तक 149.8 मिमी बारिश दर्ज की जा चुकी है. लोहदरगा ज़िले में में सबसे ज़्यादा 283% अतिरिक्त बारिश दर्ज हुई, जबकि पलामू में 265% और गढ़वा में 217%.

ये भी पढ़ें : झारखंड में कंटेनर और ट्रक से 2000 पेटी शराब जब्त, बिहार में खपाने की थी चाल

jharkhand news, jharkhand monsoon, jharkhand weather news, weather forecast, झारखंड समाचार, झारखंड मानसून, झारखंड मौसम समाचार, मौसम भविष्यवाणी
झारखंड में जून के आधे महीने में ही सरप्लस बारिश हो चुकी है.


खेती किसानी के लिए खुशखबरी और निर्माण के लिए दुखद
रांची के मौसम केंद्र के अधिकारियों ने बताया कि राज्य के 24 में से 4 ज़िलों में 200% से ज़्यादा अतिरिक्त बारिश हुई, 10 में 100% अतिरिक्त और बाकी 10 ज़िलों में सामान्य बारिश दर्ज की गई. अच्छी बारिश के बीच, खूंटी, गुमला, सिमडेगा और पूर्व सिंहभूम समेत 6 ज़िलों के किसानों ने धान बोना शुरू कर दिया है. राज्य में धान की फसल 18 लाख हेक्टेयर में उगाए जाने का लक्ष्य है. दूसरी तरफ, पलामू ज़िले के पंकी ब्लॉक में 8.34 करोड़ रुपये की लागत से बना पुल ढह जाने की खबर है. वहीं, गिरी​डीह के जमुआ प्रखंड के मुख्यालय में घुटनों तक पानी भर जाने से बाढ़ जैसे हालात हैं. दामोदर नदी में जलस्तर काफी बढ़ चुका है और लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.