रांची: रिम्स में लेडी डॉक्टर से रेप के प्रयास मामले में आरोपी डॉक्टर ने कोर्ट में किया सरेंडर
Ranchi News in Hindi

रांची: रिम्स में लेडी डॉक्टर से रेप के प्रयास मामले में आरोपी डॉक्टर ने कोर्ट में किया सरेंडर
दिल्ली के इन हॉस्पिटलों के डॉक्टर सैलरी न मिलने से आर्थिक संकट का सामना करने की बात कह रहे हैं.

आरोप के मुताबिक 27 मई की रात को नाइट ड्यूटी के दौरान महिला डॉक्टर (Lady Doctor) से रेप का प्रयास (Rape Attempt) किया गया. दूसरे दिन इस मामले में पीड़िता ने बरियातू थाने में आरोपी डॉक्टर के खिलाफ प्राथमिकी (FIR) दर्ज कराई

  • Share this:
रांची. रिम्स (RIMS) में जूनियर लेडी डॉक्टर से दुष्कर्म के प्रयास (Rape Attempt) के मामले में आरोपी सीनियर रेजिडेंट डॉक्टर अरुण कुमार मौर्य ने मंगलवार को न्यायिक दंडाधिकारी मनीष कुमार सिंह की कोर्ट में सरेंडर (Surrender) कर दिया. कोर्ट ने उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है. आरोप के मुताबिक 27 मई की रात को नाइट ड्यूटी के दौरान महिला डॉक्टर से रेप का प्रयास किया गया. दूसरे दिन इस मामले में पीड़िता ने बरियातू थाने में आरोपी डॉक्टर के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई. जिसके बाद से आरोपी फरार चल रहे थे.

पीड़िता ने रूम से भागकर बचाई इज्जत 

पीड़ित लेडी डॉक्टर ने पुलिस को बताया कि 27 मई की रात करीब 12 बजे ड्यूटी समाप्त कर कमरे में जाने के बाद आरोपी डॉक्टर से उसके साथ दुष्कर्म का प्रयास किया. एक मरीज को कोविड आइसीयू से कार्डियोलॉजी विभाग में शिफ्ट करने के बाद आरोपी डॉक्टर ने उसे कहा कि उनका घर बंद हो गया है और गार्ड कॉल नहीं उठा रहा है. इसलिए वह उसके साथ रहेगा. जिस पर उसने आपत्ति जताई और सिस्टर इंचार्ज से बातचीत कर पेइंग वार्ड के चौथे तल्ले के डी-15 में डॉ. अरुण के लिए रूम दिलवाया. जबकि वह उसी वार्ड के डी-19 में रूक गई.



थोड़ी देर बाद आरोपी डॉक्टर ने पीड़िता को कॉल किया और कहा कि तुम्हारा रूम दिखाओ. इसके बाद वह रूम पहुंच गया, पानी का बोतल लेने के बहाने गलत हरकत शुरू कर दी. किसी तरह पीड़िता वहां से भागी और अपने सीनियर को इसकी जानकारी दी. तब तक आरोपी मौके से फरार हो गया. इसके बाद पीड़िता ने इसकी शिकायत रिम्स डायरेक्टर से की. दूसरे दिन गुरुवार को बरियातू थाने में केस दर्ज कराई.



घटना से जूनियर डॉक्टरों में रोष 

इस घटना को लेकर रिम्स के जूनियर डॉक्टरों में काफी रोष देखा गया. जूनियर डॉक्टरों की लिखित शिकायत पर रिम्स निदेशक ने तीन सदस्यीय जांच कमेटी बनाई. निदेशक ने भरोसा दिलाया कि रिपोर्ट आने पर आरोपी के खिलाफ कार्रवाई होगी. आरोपी डॉक्टर अरुण कुमार मौर्य रिम्स के एनेस्थीसिया विभाग में सीनियर रेजिडेंट हैं. घटना के कुछ देर बाद उन्होंने लेडी डॉक्टर को वाहट्सऐप कर अपनी गलती स्वीकारी और माफी भी मांगी थी.

ये भी पढ़ें- कोरोना योद्धा की मार्मिक कथा: पति को चरित्र पर शक, सास बेटी से मिलने नहीं दे रही
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading