लाइव टीवी

करीब डेढ़ साल बाद लालू यादव ने ली खुली हवा में सांस, चेहरे पर दिखी सत्ता परिवर्तन की मुस्कान

Naween Jha | News18 Jharkhand
Updated: January 16, 2020, 1:02 PM IST
करीब डेढ़ साल बाद लालू यादव ने ली खुली हवा में सांस, चेहरे पर दिखी सत्ता परिवर्तन की मुस्कान
गुरुवार को लालू यादव ने चारा घोटाले के एक मामले में सीबीआई कोर्ट में अपना बयान दर्ज कराया (फोटो- सौ. एएनआई)

आरजेडी सुप्रीमो (Lalu Yadav) चारा घोटाले के डोरंडा कोषागार मामले में सीबीआई कोर्ट (CBI Court) में बयान दर्ज कराने पहुंचे थे. इस दौरान कोर्ट ने उनसे 32 साल किये, जिनका उन्होंने जवाब दिया. और मामले में खुद को निर्दोष बताया.

  • Share this:
रांची. आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव (Lalu Yadav) ने आज महीनों बाद खुली हवा सांसें लीं. इस दौरान उनके चेहरे पर मुस्कान भी दिखी. ये मुस्कान झारखंड में महागठबंधन की सरकार बनने और बीजेपी को सत्ता से बेदखल करने को लेकर हो सकती है. कोर्ट पहुंचने पर मीडिया से बात करते हुए लालू यादव ने कहा कि आज ऐसी तस्वीर ही ले लो. पहले राज हमारा नहीं था. दरअसल आरजेडी सुप्रीमो चारा घोटाले (Fodder Scam) के डोरंडा कोषागार मामले में सीबीआई कोर्ट (CBI Court) में बयान दर्ज कराने पहुंचे थे. इस दौरान कोर्ट ने उनसे 32 साल किये, जिनका उन्होंने जवाब दिया. और मामले में खुद को निर्दोष बताया.

कड़ी सुरक्षा के बीच कोर्ट पहुंचे लालू 

लालू प्रसाद को कड़ी सुरक्षा के बीच रिम्स से कोर्ट लाया गया. इस दौरान वे पहले से ज्यादा स्वस्थ नजर आए. कोर्ट में उनके समर्थकों की भीड़ उमड़ी थी. कोर्ट परिसर में भी सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गये थे. बता दें कि झारखंड में हेमंत सोरेन की सरकार बनने के बाद लालू प्रसाद ने रिम्स में दरबार लगाना शुरू कर दिया था. लेकिन इस पर विपक्ष के द्वारा सवाल उठाये जाने के बाद जेल और जिला प्रशासन ने रोक लगा दी.

लालू प्रसाद चारा घोटाले के चार मामले में सजा काट रहे हैं. उन्हें कई तरह की स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां हैं. इसको देखते हुए रांची के बिरसा मुंडा जेल प्रशासन ने उन्हें रिम्स में भर्ती कराया था. तब से उनका रिम्स के पेइंग वार्ड में इलाज जारी है. हालांकि वे अपने स्वास्थ्य का हवाला देकर कई बार जमानत के लिए प्रयास कर चुके हैं. लेकिन झारखंड हाईकोर्ट से जमानत नहीं मिल रही है. पिछले बार मई 2018 में उन्हें जमानत मिली थी और वे पटना गया थे. जहां से इलाज के लिए बाहर गये थे. बड़े बेटे तेजप्रताप की शादी में हिस्सा लिया था. उस जमानत के बाद आज पहला मौका है, जब लालू यादव ने खुली हवा में सांसें ली है.

अबतक 109 आरोपियों के बयान दर्ज

डोरंडा कोषागार का मामला लालू यादव से जुड़े चारा घोटाले का पांचवा मामला है. इस मामले में भी अगले दो-तीन महीने में फैसला आ सकता है. 139 करोड़ रुपए की अवैध निकासी से जुड़े इस मामले में लालू यादव सहित 111 आरोपी ट्रायल फेस कर रहे हैं. इनमें पूर्व मंत्री, नौकरशाह और सप्लायर भी शामिल हैं. इस मामले अबतक 109 आरोपियों के बयान दर्ज हो चुके हैं, जबकि दो अन्य आरोपियों का सीबीआई कोर्ट में 313 का बयान दर्ज होना बाकी है.

ये भी पढ़ें- चारा घोटाला: कड़ी सुरक्षा के बीच सीबीआई कोर्ट में पेश हुए लालू, दर्ज कराया 313 का बयान 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 16, 2020, 1:02 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर