अजय कुमार ने झारखंड कांग्रेस अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा, इन नेताओं को बताई वजह

अजय कुमार ने लिखा कि सुबोधकांत सहाय, प्रदीप बलमुचू, चंद्रशेखर दुबे और फुरकान अंसारी जैसे प्रदेश के बड़े नेता पार्टी हित से ज्यादा व्यक्तिगत लाभ के लिए काम कर रहे हैं.

News18 Jharkhand
Updated: August 9, 2019, 7:48 PM IST
अजय कुमार ने झारखंड कांग्रेस अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा, इन नेताओं को बताई वजह
अजय कुमार ने झारखंड कांग्रेस अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा
News18 Jharkhand
Updated: August 9, 2019, 7:48 PM IST
झारखंड प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष पद से अजय कुमार ने इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने अपना इस्तीफा राहुल गांधी को भेज दिया है. अपने पत्र में उन्होंने प्रदेश में लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की हार के लिए कुछ वरिष्ठ नेताओं को जिम्मेदार ठहराया है. उन्होंने लिखा कि सुबोधकांत सहाय, प्रदीप बलमुचू, चंद्रशेखर दुबे और फुरकान अंसारी जैसे नेता पार्टी हित से ज्यादा व्यक्तिगत लाभ के लिए काम कर रहे हैं.

अजय कुमार ने हाल में रांची स्थित प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में हुए विवाद का भी इस चिट्ठी में जिक्र किया और सुबोधकांत सहाय पर निशाना साधा. उन्होंने ये भी लिखा कि विधानसभा चुनाव के लिए ये नेता खुद और अपने परिवारवालों के लिए सीट चाह रहे हैं.

प्रदेश कार्यालय में हुई थी हाथापाई

बता दें कि बीते एक अगस्त को प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में सुबोधकांत सहाय और अजय कुमार के समर्थकों के बीच जमकर हाथापाई हुई थी. जिसके बाद प्रदेश 20 बड़े नेताओं को दिल्ली तलब किया गया था. 3 अगस्त को दिल्ली स्थित कांग्रेस मुख्यालय में झारखंड के इन नेताओं के साथ आलाकमान की बैठक हुई. इस बैठक में प्रदेश प्रभारी आरपीएन सिंह ने साफ कर दिया कि अनुशासनहीनता किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने भी सख्त हिदायत देते हुए कहा था कि चाहे वे नेता कितना ही बड़ा क्यों न हो, पार्टी लाइन के खिलाफ, अगर बयान देंगे, तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

fight
प्रदेश कांग्रेस ऑफिस में बवाल की तस्वीर


उठ रही अध्यक्ष पद से हटाने की मांग
Loading...

दरअसल लोकसभा चुनाव के बाद से झारखंड कांग्रेस में बवाल जारी है. पार्टी का एक गुट प्रदेश नेतृत्व में परिवर्तन के लिए रांची से लेकर दिल्ली तक में जोर लगा रहा था. प्रदीप बालमुचू, सुबोधकांत सहाय, चंद्रशेखर दुबे और फुरकान अंसारी जैसे नेता अजय कुमार को प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाने की मांग कर रहे थे. इन नेताओं का कहना था कि अगर अजय कुमार को अध्यक्ष पद से नहीं हटाया गया, तो लोकसभा चुनाव की तरह ही विधानसभा चुनाव में भी पार्टी को हार का मुंह देखना पड़ेगा.

लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को झारखंड में मात्र एक सीट पर जीत मिली. जबकि पार्टी ने 7 सीटों पर चुनाव लड़ा था. खूंटी और लोहरदगा सीट पर कांग्रेस को बेहद कम मार्जिन से हार का सामना करना पड़ा. लोकसभा चुनाव में मिली हार के तुरंत बाद अजय कुमार ने इस्तीफा सौंपा था. तब उनके इस्तीफे को मंजूर नहीं किया गया था. सुखदेव भगत के बाद अजय कुमार को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बनाया गया था.

रिपोर्ट- नवीन कुमार 

ये भी पढ़ें- अखाड़ा बना कांग्रेस दफ्तर, PCC अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री के समर्थकों में जमकर मारपीट

झारखंड कांग्रेस में घमासान पर आलाकमान सख्त, 20 नेता दिल्ली तलब

 

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 9, 2019, 7:45 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...