लाइव टीवी

आजादी की पहली लड़ाई आदिवासियों ने लड़ी, लेकिन इतिहास में जगह नहीं मिली: अमित शाह

News18Hindi
Updated: November 17, 2019, 12:08 AM IST
आजादी की पहली लड़ाई आदिवासियों ने लड़ी, लेकिन इतिहास में जगह नहीं मिली: अमित शाह
अमित शाह ने राष्ट्रीय जनजातीय आदि महोत्‍सव के दौरान कांग्रेस पर निशाना साधा.

केन्द्रीय मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने आदिवासी नेता बिरसा मुंडा (Virsa Munda) को याद करते हुए कहा कि देश आदिवासियों (Tribals) को उनका अधिकार दिलाने के लिए अंग्रेजों के खिलाफ मुंडा की लड़ाई को नहीं भूल सकता. उन्होंने वनों और पर्यावरण के संरक्षण में योगदान के लिए आदिवासियों की प्रशंसा भी की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 17, 2019, 12:08 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केन्द्रीय मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने शनिवार को कांग्रेस पर आदिवासियों का वोटबैंक के रूप में इस्तेमाल करने और उनके कल्याण के लिये "कुछ नहीं करने" का आरोप लगाया और कहा कि मोदी सरकार ने विकास योजनाओं के जरिये उनका (आदिवासियों का) जीवन बदल दिया. गृह मंत्री ने आदिवासी नेता बिरसा मुंडा (Virsa Munda) को याद करते हुए कहा कि देश आदिवासियों (Tribals) को उनका अधिकार दिलाने के लिए अंग्रेजों के खिलाफ मुंडा की लड़ाई को नहीं भूल सकता. उन्होंने वनों और पर्यावरण के संरक्षण में योगदान के लिए आदिवासियों की प्रशंसा भी की.

राष्ट्रीय जनजातीय आदि महोत्‍सव (National Tribal Festival Aadi Mahotsav) के दौरान केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा, आजादी की पहली लड़ाई आदिवासियों ने लड़ी थी. लेकिन इतिहास में इसे जगह नहीं मिली. मोदी सरकार ने इसके लिए म्‍यूजियम की स्‍थापना की है, जो कि देश की आजादी आदिवासियों के महत्‍व को बताता है जो आने वाली पीढ़ियों को इसकी जानकारी देता रहेगा. शाह ने यहां 'आदि महोत्सव' का शुभारंभ करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एक "भाई" की तरह मजबूती से आदिवासी आबादी के पीछे खड़े हैं और यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि उन्हें सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ मिले."



शाह ने आदिवासियों के पिछड़ेपन के लिये कांग्रेस पर निशाना साधा
Loading...

उन्होंने कहा, "स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद के 70 वर्षों में कांग्रेस ने आदिवासियों का वोटबैंक के रूप में इस्तेमाल किया. पार्टी ने आदिवासियों के कल्याण के लिये कुछ नहीं किया. भाजपा जहां भी सत्ता में आई, उसने आदिवासियों के लिये विकास से जुड़ी योजनाओं की झड़ी लगा दी." बता दें कि झारखंड में विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं. ये चुनाव पांच चरणों में हैं. बीजेपी के सामने यहां पर सत्‍ता बचाने की चुनौती है.

यह भी पढ़ें: कांग्रेस 30 नवम्बर को रामलीला मैदान में करेगी ‘भारत बचाओ रैली’

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 16, 2019, 10:56 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...