Home /News /jharkhand /

amitabh choudhary cremation cm hemant soren attended the funeral in ranchi harmu muktidham bruk

पंचतत्व में विलीन हुए जेपीएससी के पूर्व अध्यक्ष  अमिताभ चौधरी, अंतिम संस्कार में शामिल हुए सीएम हेमंत सोरेन

रांची स्थित मुक्तिधाम में अमिताभ चौधरी के अंतिम संस्कार में सीएम हेमंत सोरेन भी  शामिल हुए.

रांची स्थित मुक्तिधाम में अमिताभ चौधरी के अंतिम संस्कार में सीएम हेमंत सोरेन भी शामिल हुए.

Jharkhand News: झारखंड क्रिकेट एसोसिएशन (JSCA) के पूर्व अध्यक्ष अमिताभ चौधरी आज पंचतत्व में विलीन हो गये. हरमू मुक्तिधाम, रांची में उनके पुत्र अभिषेक चौधरी ने उन्हें मुखाग्नि दी. इस दौरान उन्हें राजकीय सम्मान के साथ सशस्त्र सलामी भी दी गयी.

अधिक पढ़ें ...

रांची. झारखंड क्रिकेट एसोसिएशन (JSCA) के पूर्व अध्यक्ष अमिताभ चौधरी बुधवार को पंचतत्व में विलीन हो गये. रांची के हरमू मुक्तिधाम में उनके पुत्र अभिषेक चौधरी ने उन्हें मुखाग्नि दी. इस दौरान उन्हें राजकीय सम्मान के साथ सशस्त्र सलामी भी दी गयी. दिवंगत  चौधरी को राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई. रांची स्थित मुक्तिधाम में अमिताभ चौधरी के अंतिम संस्कार में सीएम हेमंत सोरेन भी  शामिल हुए.

मुख्यमंत्री ने अमिताभ चौधरी के पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी तथा ईश्वर से दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करने और शोक संतप्त परिजनों को यह वियोग सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना की.  मुख्यमंत्री  दिवंगत चौधरी के पत्नी, पुत्र एवं पुत्री सहित अन्य परिजनों से मिले तथा उन्हें ढांढस बंधाया. मुख्यमंत्री ने दिवंगत चौधरी के परिजनों एवं शुभचिंतकों के प्रति संवेदनाएं प्रकट की. इस मौके पर मंत्री मिथिलेश ठाकुर, राज्यसभा सांसद महुआ माजी, झारखंड प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजेश ठाकुर, विधायक विरंची नारायण सहित अन्य गणमान्य लोग एवं बड़ी संख्या में दिवंगत चौधरी के शुभचिंतक उपस्थित थे.

वहीं इससे पहले झारखंड क्रिकेट के सबसे बड़े शौ मैन कहे जाने वाले अमिताभ चौधरी को जेएससीए स्टेडियम में अभूतपूर्व श्रद्धांजलि दी गयी. बुधवार को सुबह दस बजे अमिताभ चौधरी के पार्थिव शरीर को अशोक नगर स्थित उनके आवास से धुर्वा स्थित जेएससीए स्टेडियम लाया गया. इसके बाद से श्रद्धांजलि देने के लिए दोपहर करीब ढाई बजे तक लोग जेएससीए स्टेडियम में उमड़ते रहे.  अमिताभ चौधरी के पार्थिव शरीर को करीब ढाई बजे जेएससीए स्टेडियम से हरमू मुक्तिधाम ले जाया गया. हालांकि इससे पहले पार्थिव शरीर को लेकर सदस्यों ने पूरे स्टेडियम का चक्कर लगाया. जेएससीए के सदस्य जय सिन्हा ने बताया कि अमिताभ चौधरी को इस स्टेडियम से बड़ा लगाव था. वे अक्सर आकर अपने चैंबर में बैठकर खिड़की से स्टेडियम को निहारा करते थे.

बता दें, अमिताभ चौधरी 2002 में बीसीसीआई के मेंबर बने फिर कार्यकारी सचिव तक के पद को सुशोभित किया. 2005 में झारखंड के तत्कालीन डिप्टी चीफ मिनिस्टर सुदेश कुमार महतो को हरा कर वह जेएससीए के अध्यक्ष बने. फिर 2005 से 2009 तक टीम इंडिया के मैनेजर भी रहे. 2013 में उन्होंने आईपीएस की नौकरी से वीआरएस ले लिया. इससे पहले उन्होंने राजनीति में भी किस्मत आजमाई. 2014 में उन्होंने राजनीति में कदम रखा. भाजपा से टिकट नहीं मिलने पर बाबूलाल मरांडी की पार्टी जेवीएम से रांची लोकसभा का चुनाव लड़ा. हालांकि, वे चुनाव जीत नहीं सके. मंगलवार सुबह अशोकनगर स्थित आवास पर अहले सुबह करीब तीन बजे वे चक्कर खाकर गिर गए, जिसके बाद उन्हें आनन फानन में सेंटेविटा अस्पताल लाया गया. जहां डॉक्टरों ने मैसिव हार्ट अटैक होने की बात कहते हुए इलाज शुरू तो किया लेकिन, उन्हें बचाया नहीं जा सका.

Tags: CM Hemant Soren, Jharkhand news, Ranchi news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर