होम /न्यूज /झारखंड /अंकिता हत्याकांड: अर्जुन मुंडा की मांग- हत्यारे को मिले फांसी, बाबूलाल बोले- नदीम की तरह अंकिता के लिए व्यवस्था क्यों नहीं

अंकिता हत्याकांड: अर्जुन मुंडा की मांग- हत्यारे को मिले फांसी, बाबूलाल बोले- नदीम की तरह अंकिता के लिए व्यवस्था क्यों नहीं

केन्द्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने अंकिता हत्याकांड को लेकर हेमंत सरकार पर निशाना साधा. (फाइल फोटो)

केन्द्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने अंकिता हत्याकांड को लेकर हेमंत सरकार पर निशाना साधा. (फाइल फोटो)

Ankita Murder Case: केन्द्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने ट्वीट कर कहा कि ये बहुत दुखद है. आखिरकार दुमका की बेटी अंकिता रांच ...अधिक पढ़ें

रांची. दुमका की छात्रा अंकिता को जिंदा जलाने के मामले पर सियासत तेज हो गई है. विपक्ष इस मामले को लेकर हेमंत सरकार को कठघरे में खड़ा कर रहा है. पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि शाहरुख की सनक की शिकार हुई अंकिता की जान बचाई जा सकती थी, अगर उसे भी बेहतर इलाज मिल पाता. एक ओर रांची में हुए उपद्रव में घायल नदीम को राज्य सरकार एयर एम्बुलेंस से सरकारी खर्च पर दिल्ली भेज मेदांता में इलाज करवाती है, वहीं अंकिता को रांची भेजने तक की व्यवस्था नहीं कर पाती.

केन्द्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने ट्वीट कर कहा कि ये बहुत दुखद है. आखिरकार दुमका की बेटी अंकिता रांची के रिम्स में जिंदगी की जंग हार गई. शाहरुख नामक वहशी युवक ने उसे पेट्रोल छिड़ककर आग के हवाले कर दिया था. राज्य सरकार फास्ट ट्रैक कोर्ट का गठन कर हत्यारे को फांसी की सजा दिलाए. अंकिता को अश्रुपूर्ण श्रद्धांजलि.

इस घटना से दुमका के लोगों में काफी आक्रोश है. विभिन्न हिंदू संगठनों ने विरोध मार्च और बंदी का ऐलान किया है. साथ ही आरोपी शाहरुख को फांसी की सजा देने और मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट में ले जाकर कड़ी से कड़ी सजा देकर समाज में एक उदाहरण पेश करने की बात कही है.

" isDesktop="true" id="4510685" >

बता दें कि एकतरफा प्यार में आरोपी शाहरुख ने अंकिता को पेट्रोल छिड़क कर जिंदा जला दिया था. 12वीं में पढ़ने वाली छात्रा अंकिता कुमारी की सिर्फ यही गलती थी कि उसने शाहरुख की बात नहीं मानी थी. जिसके बाद युवक ने पेट्रोल छिड़कर कर उसे जलाने की कोशिश की. बीते मंगलवार को अंकिता जब सो रही थी उसी समय करीब 4 बजे सिरफिरा आशिक उसके घर के खिड़की के पास पहुंचा और पेट्रोल छिड़ककर सोई हुई अंकिता पर माचिस मार कर आग लगा दी, जिससे वह बुरी तरह से घायल हो गयी थी. परिजनों ने अंकिता को दुमका के फूलो झानो मेडिकल  मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां से उसे बेहतर इलाज के लिए रांची के रिम्स में रेफर कर दिया गया. 4 दिन तक अंकिता ने जिंदगी से जीतने की काफी कोशिश की पर आखिरकार वह जिंदगी की जंग हार गई. एकतरफा प्यार में एक युवक शाहरुख ने अंकिता को पेट्रोल छिड़क कर जिंदा जला दिया था. 12वीं में पढ़ने वाली छात्रा अंकिता कुमारी की सिर्फ यही गलती थी कि उसने शाहरुख की बात नहीं मानी थी, जिसके बाद युवक ने पेट्रोल छिड़कर कर उसे जलाने की कोशिश की.

Tags: Arjun munda, CM Hemant Soren, Dumka news, Jharkhand news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें