सेना ने भर्ती के नाम पर लाखों ऐंठने वाले दलाल को पकड़ा, क्लर्क की 4 और GD में भर्ती की साढ़े 3 लाख रखी थी कीमत

सेना की इंटेलीजेंस शाखा ने रांची में एक दलाल को गिरफ्तार किया है.

सेना की इंटेलीजेंस शाखा ने रांची में एक दलाल को गिरफ्तार किया है.

Ranchi News: रांची में सेना बहाली के दौरान सेना के सेंट्रल कमांड मिलिट्री इंटेलिजेंस (Central command military intelligence) रांची शाखा की टीम ने बिहार के नालंदा निवासी एक्स आर्मी मैंन सूरज कुमार सिंह को गिरफ्तार किया है.

  • Last Updated: March 18, 2021, 10:54 PM IST
  • Share this:
रांची. राजधानी के मोरहाबादी मैदान में चल रहे सेना बहाली के दौरान सेना के सेंट्रल कमांड मिलिट्री इंटेलिजेंस (Central command military intelligence) रांची शाखा की टीम ने बिहार के नालंदा निवासी एक्स आर्मी मैंन सूरज कुमार सिंह को गिरफ्तार किया है. उस पर सेना में भर्ती के नाम पर लाखों रुपए ऐंठने का आरोप है. आरोपी दलाल के पास से आर्मी बहाली के कई कागजात बरामद हुए हैं.

आरोपी सूरज सिंह ने सेना में भर्ती कराने के नाम पर अभ्यर्थियों को अपने झांसे में लेकर उनसे लाखों रुपए ऐंठ रहा था. पुख्ता जानकारी मिलने के बाद आर्मी इंटिलिजेंस और लालपुर पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए सूरज कुमार सिंह को धर दबोचा है, वहां उसके साथ एक अन्य युवक को भी पुलिस ने हिरासत में लिया है, जिससे पूछताछ की जा रही है.

सूरज के साथ 2 अन्य संदिग्ध पकड़ाए

सूरज सिंह मूल रूप से बिहार के नालंदा का रहने वाला है, लेकिन वर्तमान में वो रांची के सिउखदेव नगर थाना क्षेत्र स्थित सुखदेव नगर इलाके में रहता था. लेकिन जब से मोराबादी मैदान में आर्मी बहाली भर्ती की प्रक्रिया शुरू हुई है. सूरज मोराबादी के आसपास रह अभ्यर्थियों को आर्मी में बहाल कारण एक झांसा देकर उनसे रुपए ऐंठेने में लगा हुआ था. जिसकी जानकारी पुख्ता तौर पर मिलने के बाद आर्मी इंटेलिजेंस के सेंट्रल कमांड और लालपुर पुलिस ने सूरज को मोराबादी से दबोचा. वहीं इस दौरान उसके साथ एक अन्य संदिग्ध को भी हिरासत में लिया तो वहीं उसके साथ मौजूद अन्य दो शख्स फरार हो गए.
आरोपी सूरज और उसके साथ मौजूद व्यक्ति से पुलिस लालपुर थाने ने पूछताछ कर रही है. वहीं पुलिस ने सूरज के चुनाभट्ठा स्थित मकान पर भी देर रात छापेमारी की और घर से भी कई महत्वपूर्ण कागजात बरामद किया वही सूरज के घर मे मौजूद एक अन्य युवक को भी वहां से हिरासत में लिया है.

4 लाख और साढ़े 3 लाख का रेट फिक्स

जानकारी के अनुसार, सूरज ने आर्मी रैली बहाली में अभ्यर्थियों को बहाल करने का रेट भी फिक्स किया था. आर्मी क्लर्क पद के लिए जहां 4 लाख रुपए और जीडी के लिए साढ़े 3 लाख रुपए की वसूली की जा रही थी. मामले जो जानकारी अबतक मिली थी मेडिकल में पास कराने के साथ रिटेन एग्जाम का प्रश्न पत्र भी पहले मुहैया करने की बात सूरज के द्वारा अभ्यर्थियों से की गई थी. ये तमाम जानकारियां पुख्ता होने के बाद ये कार्रवाई आर्मी इंटेलिजेंस द्वारा पुलिस के सहयोग से की गई.



आपको बता दें की कुछ दिनों पूर्व ही फर्जी सर्टिफिकेट के साथ 6 युवकों को आर्मी बहाली के दौरान पकड़ा गया था. इन युवकों से की गई पूछताछ के बाद ही ये कार्रवाई की गई जिसमें इस शख्स की गिरफ्तारी संभव हो पाई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज