होम /न्यूज /झारखंड /Baba Dham Temple Unlock: देवघर में कल से खुलेगा बाबा का मंदिर, E-Pass के लिए रजिस्‍ट्रेशन शुरू

Baba Dham Temple Unlock: देवघर में कल से खुलेगा बाबा का मंदिर, E-Pass के लिए रजिस्‍ट्रेशन शुरू

Deoghar Baba Dham Open: बाबाधाम के मंदिर में दर्शन-पूजन के लिए E-Pass जरूरी किया गया है. (फाइल फोटो)

Deoghar Baba Dham Open: बाबाधाम के मंदिर में दर्शन-पूजन के लिए E-Pass जरूरी किया गया है. (फाइल फोटो)

Baba Baidyanath Temple Unlock News: देवघर में बाबाधाम मंदिर में बिना ई-पास के प्रवेश की अनुमति नहीं मिलेगी. E-Pass बनवा ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

    रांची. झारखंड में अनलॉक को लेकर जारी नए दिशा-निर्देशों के साथ ही प्रदेश भर में मंदिरों को खोलने की तैयारी चल रही है. मंदिर में प्रवेश करने के लिए E-Pass बनवाना जरूरी होगा. इसके जरिए ही बाबा वैद्यनाथ धाम समेत झारखंड के अन्‍य मंदिरों में प्रवेश की अनुमति मिलेगी. E-Pass बनवाने के लिए पहले रजिस्‍ट्रेशन करना होगा. इसके लिए वेबसाइट का लिंक जारी किया जाएगा. बाबा वैद्यनाथ मंदिर को गुरुवार के बजाए शुक्रवार से खोला जाएगा. झारखंड सरकार में कई महीनों बाद मंदिरों को खोलने की अनुमति दी गई है. हालांकि, मंदिर में प्रवेश के लिए कई तरह के मापदंड तय किए गए हैं. इन शर्तों का पालन करना अनिवार्य होगा.

    देवघर जिला प्रशासन ने ई-पास के लिए वेबसाइट में जो व्यवस्था की है, उसके अप्रूवल के लिए उसे NIC को भेज दिया गया है. अप्रूवल मिलते ही वेबसाइट का लिंक शेयर कर दिया जाएगा. लिंक सार्वजनिक होते ही श्रद्धालु बाबा भोलेनाथ के मंदिर में दर्शन-पूजन के लिए E-Pass का रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे.

    देवघर के बाबा मंदिर को क्यों कहते हैं बैद्यनाथ धाम, पढ़ें

    देवघर के डीसी ने बताया कि बाबा बैद्यनाथ मंदिर में रोजाना सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक आम श्रद्धालुओं को प्रवेश मिलेगा. हर दिन 10 घंटे मंदिर के पट खुले रहेंगे. प्रति घंटे 100-100 श्रद्धालुओं को जलार्पण/दर्शन की अनुमति होगी. कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए अभी प्रतिदिन 1000 श्रद्धालु ही बाबा मंदिर में पूजा कर पाएंगे. बिना E-Pass के किसी भी श्रद्धालु को बाबा मंदिर में प्रवेश नहीं मिलेगा.

    बाबा के मंदिर में प्रवेश के लिए जो भी लोग E-Pass के लिए ऑनलाइन आवेदन करेंगे, उनके लिए आधार कार्ड अनिवार्य होगा. कोविड संक्रमण की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए अभी 18 वर्ष से नीचे के किसी भी भक्त को बाबा मंदिर में प्रवेश नहीं मिलेगा. साथ ही जिला प्रशासन विचार कर रहा है कि E-Pass सिस्टम में कोविड वैक्सीन का कम से कम एक डोज लिए व्यक्ति को ही पास जारी हो. इस व्यवस्था को भी अंतिम रूप दिया जा रहा है.

    Tags: Corona unlock, Deoghar news, Jharkhand news

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें