झारखंड में कोरोना चेन तोड़ने के लिए बाबूलाल मरांडी ने की लॉकडाउन की मांग, सीएम हेमंत से की बात

बाबूलाल मरांडी ने राज्य में लॉकडाउन को जरूरी बताया है.

बाबूलाल मरांडी ने राज्य में लॉकडाउन को जरूरी बताया है.

बाबूलाल मरांडी (Babulal Marandi) ने कहा कि जो खबरें सामने आ रही हैं, उससे लगता है कि राज्य की जनता चाहती है कि लॉकडाउन (Lockdown) लगे. सरकार को बिना विलंब किए एक सप्ताह का लॉकडाउन लगा देना चाहिए.

  • Share this:
रांची. पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी (Babulal Marandi) ने राज्य में कोरोना चेन तोड़ने के लिए सरकार से एक सप्ताह का पूर्ण लॉकडाउन (Lockdown) लगाने की मांग की है. बाबूलाल मरांडी ने इस सिलसिले में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) से फाेन पर बात भी की और राज्य की मौजूदा परिस्थितियों का हवाला देते हुए लॉकडाउन को जरूरी बताया.

बाबूलाल मरांडी ने कहा कि जो खबरें सामने आ रही हैं, उससे लगता है कि राज्य की जनता चाहती है कि लॉकडाउन लगे. उन्होंने दिल्ली का हवाला देते हुए कहा कि राज्य सरकार को बिना विलंब किए कम से कम एक सप्ताह का लॉकडाउन लगा देना चाहिए. बीजेपी इसमें सरकार को पूरा सहयोग करेगी. जनता भी यही चाह रही है कि लॉकडाउन लगे ताकि कोरोना का चेन टूट सके.

उधर, केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने अपने संसदीय क्षेत्र खूंटी जिले में कोरोना के बढ़ते मामलों और वहां की जनता को ऑक्सीजन समेत अन्य इलाज की सुविधा मुहैया कराने के लिए सांसद फंड से 50 लाख रुपये देने की सिफारिश की है. उन्होंने इसके लिए खूंटी उपायुक्त शशि रंजन को चिट्ठी लिखकर अनुशंसा की है. इस रकम से ऑक्सीजन सिलेंडर सेट, ऑक्सीजन कंसस्ट्रेटर मशीन, कार्डिक मॉनिटर एवं कार्डिक एंबुलेंस खरीदने के साथ ही साथ जिले में ऑक्सीजन प्लांट बैठाने के लिए कहा गया है.

बता दें कि अर्जुन मुंडा खुद कोरोना से ग्रसित हैं. लेकिन संक्रमण के इस दौर में वे अपने संसदीय क्षेत्र की मौजूदा समस्याओं की जानकारी फोन पर हासिल कर रहे हैं. खूंटी में ऑक्सीजन का प्लांट लगने से जिले में ऑक्सीजन की कमी की समस्या का समाधान होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज