बिहार चुनाव के बीच आरजेडी के लिए बड़ी खुशखबरी, नवंबर में जेल से बाहर आ सकते हैं लालू

दुमका मामले में जमानत मिलने के बाद लालू यादव जेल से बाहर आ पाएंगे. (फाइल फोटो)
दुमका मामले में जमानत मिलने के बाद लालू यादव जेल से बाहर आ पाएंगे. (फाइल फोटो)

अधिवक्ता ने बताया कि दुर्गा पूजा की छुट्टी के बाद संभावना है कि 06 नवम्बर को लालू प्रसाद (Lalu Yadav) को दुमका मामले में भी जमानत (Bail) मिल जाए, जिसके बाद वे जेल से बाहर आ सकेंगे.

  • Share this:
रांची. चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद (Lalu Yadav) की ओर से दुमका कोषागार से अवैध निकासी के (RC 38A/96) मामले में झारखंड उच्च न्यायालय (Jharkhand High court) में जमानत याचिका (Bail Petition) दायर की गई है. लालू प्रसाद के अधिवक्ता प्रभात कुमार ने बताया कि दुमका कोषागार से जुड़े इस मामले में 6 नवम्बर 2020 को आधी सजा (42 महीने) पूरी हो जाएगी.

राजद सुप्रीमो और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद को सीबीआई की विशेष अदालत ने दुमका ट्रेजरी से 3 करोड़ 13 लाख रुपये की अवैध निकासी मामले में दोषी मानते हुए 07 साल की सजा सुनाई थी.

लालू प्रसाद के अधिवक्ता प्रभात कुमार ने बताया कि 1997 में, 2013 में और वर्तमान समय में कारावास में काट रहे सजा की अवधि को जोड़कर 6 नवम्बर तक 42 महीने का कारावास पूरा हो जाएगा, जो अदालत द्वारा दी गयी सजा की अवधि की आधी है. इसलिए इस मामले अधिवक्ता देवर्षि मंडल ने हाफ सेंटेंस पूरा करने और खराब स्वास्थ्य के आधार पर जमानत देने की गुहार उच्च न्यायालय से लगाई है.



लालू प्रसाद के अधिवक्ता प्रभात कुमार ने बताया कि देवघर और चाईबासा के जिन दो मामलों में उच्च न्यायालय से बेल मिल गया है उसमें अदालत के आदेशानुसार आज बेल बांड भर दिया गया है जिसे कोर्ट ने स्वीकार लिया है.
लालू प्रसाद के अधिवक्ता ने बताया कि दुर्गा पूजा की छुट्टी के बाद संभावना है कि 06 नवम्बर को जमानत की अर्जी पर सुनवाई हो और उन्हें उम्मीद है कि झारखंड उच्च न्यायालय से उस दिन बेल मिल जाएगी तो फिर लालू प्रसाद कारावास से बाहर आ सकेंगे क्योंकि अन्य मामलों में पहले ही जमानत मिल चुकी है.

लालू प्रसाद के दुर्गा पूजा के अवकाश के बाद यानि नवंबर में जेल से बाहर आने और जनता के बीच होने की संभावना से ही राजद के नेताओं और कार्यकर्ताओं में उत्साह है.

राजद के झारखंड प्रदेश अध्यक्ष अभय कुमार सिंह ने कहा कि नवंबर में राजद परिवार और गरीबों-वंचितों को दोहरी खुशी मिलने वाली है. पहला यह कि बिहार में तेजस्वी के नेतृत्व में गरीबों, वंचितों और युवाओं की आकांक्षा की सरकार बनेगी तो दूसरी ओर गरीबों के मसीहा लालू प्रसाद भी उनके बीच होंगे.

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद की किडनी, हार्ट सहित 15 किस्म की बीमारी है और वह लंबे दिनों से अदालत के आदेश से रिम्स में भर्ती हैं जहां उनका इलाज विशेषज्ञ डॉक्टर करते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज