अपना शहर चुनें

States

Birthday Special: लालू यादव अपने बेटे तेजस्वी के साथ आज काटेंगे केक, RJD ने की इस तरह की तैयारी

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद बहुचर्चित चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे हैं. लालू प्रसाद 15 से ज्यादा बीमारियों से पीड़ित हैं. (फाइल  फोटो)
राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद बहुचर्चित चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे हैं. लालू प्रसाद 15 से ज्यादा बीमारियों से पीड़ित हैं. (फाइल फोटो)

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) सड़क मार्ग से रांची पहुंच रहे हैं. लालू प्रसाद अस्पताल के अपने कमरे में 4 पाउंड का केक काटेंगे.

  • Share this:
रांची. राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष और पूर्व रेल मंत्री लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) का आज 73 वां जन्मदिन (73rd birthday) भव्य तरीके से 73 पाउंड का केक काट कर मनाया जाएगा. लालू प्रसाद के जन्मदिन पार्टी में शामिल होने के लिए बिहार में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) सड़क मार्ग से रांची पहुंच रहे हैं. लालू प्रसाद अस्पताल के अपने कमरे में 4 पाउंड का केक काटेंगे. वहीं, लालू लंगर में राजद कार्यकर्ता गरीबों के बीच 73 पाउंड का केक काटेंगे.

जानकारी के मुताबिक, रिम्स में भर्ती राजद सुप्रीमो के 73 वें जन्मदिन को यादगार बनाने के लिए झारखण्ड राजद ने काफी तैयारी की है. वहीं, कोरोना काल में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए पिछले 70 दिनों से लालू लंगर चल रहा है. इस लंगर में आज 73 पाउंड का केट काटा जाएगा. साथ ही गरीबों और जरूरतमंदों को पूड़ी- बुंदिया व सब्जी खिलाया जाएगा. इसके साथ-साथ राजद कार्यकर्ता गरीबों के साथ केक काटकर बर्थडे गायेंगे. वहीं, एक केक 4 पाउंड का बनाया जा रहा है जिसे रिम्स के पेइंग वार्ड में लालू प्रसाद अपने अपने पुत्र तेजस्वी, चिकित्सक,मेडिकल स्टाफ और सेवकों के साथ मिलकर काटेंगे.

11 जून 1948 को गोपालगंज (बिहार ) के फुलवरिया में हुआ था लालू प्रसाद का जन्म
बिहार के गोपालगंज में लालू प्रसाद का जन्म एक साधारण यादव परिवार में हुआ था. गांव से प्रारंभिक शिक्षा के बाद लालू प्रसाद पटना आ गए, जहां उन्होंने पटना विश्वविद्यालय से BA और LLB की पढ़ाई की. साथ ही छात्र राजनीति की भी शुरुआत की. जेपी आंदोलन के सक्रिय सदस्य रहे लालू प्रसाद कर्पूरी ठाकुर के निधन के बाद बिहार में कद्दावर विपक्षी नेता बन गए.
लालकृष्ण आडवाणी का रथ रोककर देशभर में चर्चित हो गए थे लालू प्रसाद


बात 1990 की थी जब अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए भाजपा नेता लाल कृष्ण आडवाणी सोमनाथ से अयोध्या तक की रथयात्रा पर निकले थे. साम्प्रदायिक सद्भाव बनाये रखने के लिए लालू प्रसाद ने बिहार के समस्तीपुर में में ही लाल कृष्ण आडवाणी का रथ रोक कर देश -विदेश में चर्चित हो गए और खुद को एक धर्मनिरपेक्ष नेता के रूप में स्थापित कर लिया.

रिम्स में भर्ती हैं राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद
राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद बहुचर्चित चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे हैं. लालू प्रसाद 15 से ज्यादा बीमारियों से पीड़ित हैं और अदालत के आदेश से रिम्स (Rajendra Institute Of Medical Science) में इलाज करा रहे हैं. मार्च महीने में लालू प्रसाद से मुलाकात के लिए बड़ी बेटी मीसा भारती रांची आयी थीं पर कोरोना के चलते बंदियों से मुलाकात पर रोक की वजह से पिता-बेटी की मुलाकात नहीं हो पायी थी.

बिहार में इस साल होने वाले हैं विधानसभा चुनाव 
बिहार में कुछ महीने बाद ही विधानसभा चुनाव होना है. राजद और लालू प्रसाद के सामने चुनौती नीतीश कुमार -भाजपा गठबंधन सरकार को सत्ता से बाहर करने की है. साथ ही सरकार विरोधी एंटी इनकम्बेंसी वोटों को एकजुट भी रखना है. लालू प्रसाद को पता है कि बिहार में मजबूत भाजपा- जदयू गठबंधन को सिर्फ MY यानि मुस्लिम-यादव समीकरण के बल पर परास्त नहीं किया जा सकता  है.  बल्कि बिहार के सामाजिक समीकरण जिसे राजनीति में सोशल इंजीनियरिंग कहा जाता है उस कुनबे को बढ़ाना होगा.
कल जब जन्मदिन के बहाने बाप-बेटे एक साथ बैठेंगे तो बिहार की राजनीति पर चर्चा भी स्वाभाविक है.

ये भी पढ़ें- 

मास्क ऐसा कि पहनने पर भी पहचान बनी रहे, कारोबारी ने धंधा चलाने को किया खास काम

लालू के जन्मदिन पर नहीं कटेगा केक, 72 हजार गरीबों को खाना खिलाएगा राजद
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज