Home /News /jharkhand /

'गरीबों को कौन पूछे! मंत्रियों को फाइव स्टार सुविधा देने पर तुली है हेमंत सरकार', बीजेपी का निशाना

'गरीबों को कौन पूछे! मंत्रियों को फाइव स्टार सुविधा देने पर तुली है हेमंत सरकार', बीजेपी का निशाना

मंत्रियों के लिए नये बंगले के मुद्दे पर बीजेपी ने हेमंत सरकार पर निशाना साधा है.

मंत्रियों के लिए नये बंगले के मुद्दे पर बीजेपी ने हेमंत सरकार पर निशाना साधा है.

Jharkhand Politics: सरकार के इस फैसले पर विपक्ष सवाल खड़े कर रहा है. विपक्ष का आरोप है कि सरकार गरीबों की योजनाओं पर ध्यान देने की बजाय मंत्रियों को पाइव स्टार की सुविधा देने पर ध्यान दे रही है.

रांची. झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार (Hemant Soren Govt) ने रांची स्मार्ट सिटी में मंत्रियों के लिए आलीशान बंगले (Minister’s New Bungalows) बनवाने का फैसला लिया है. 11 बंगलों के लिए 70 करोड़ की राशि को मंजूरी भी दे दी गई है. लेकिन सरकार के इस फैसले पर विपक्ष सवाल खड़े कर रहा है. विपक्ष का आरोप है कि सरकार गरीबों की योजनाओं पर ध्यान देने की बजाय मंत्रियों को पाइव स्टार की सुविधा देने पर ध्यान दे रही है.

बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा कि एक तरफ राज्य सरकार कोरोना काल में सरकारी कोष खाली होने का रोना रो रही है, तो दूसरी तरफ मंत्रियों के लिए फाइव स्टार सुविधा युक्त बंगले बनाए जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में सरकार को गरीबों के लिए कल्याणकारी योजनाओं की शुरुआत करनी चाहिए थी. लेकिन सरकार अब मंत्रियों की सुविधाओं पर ध्यान दे रही है.

हालांकि जेएमएम ने सरकार के इस फैसले का समर्थन करते हुए इसे दूरदर्शी फैसला करार दिया है. पार्टी के केंद्रीय प्रवक्ता मनोज पांडे ने कहा कि पुराने आवासों के रखरखाव और मेंटेनेंस के नाम पर बड़ी राशि खर्च करनी पड़ती है. इससे अब निजात मिलेगा. उन्होंने कहा कि सरकार फिजूलखर्ची से बचना चाहती है. साथ ही मंत्रियों के लिए नए आवास के निर्माण के बाद पुराने आवास छोड़ने से सरकारी आवास की कमी की समस्या से भी छूटकारा मिलेगा.

वहीं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव के उस बयान से सहमति जताई जिसमें उन्होंने कहा कि नए बंगले के निर्माण के लिए पैसे कहां से आएंगे, इसे देखना अधिकारियों का काम है. राजेश ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार के पास टैक्स के अलावा और ऐसे कई माध्यम हैं, जिससे सरकारी कोष को बढ़ाया जा सकता है. उन्होंने सरकार के इस फैसले का स्वागत किया है.

Tags: Jharkhand news, Jharkhand Politics, Ranchi news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर