लाइव टीवी

बसों से मजदूर भेजने के मामले में बुरे फंसे मंत्री आलमगीर आलम, बीजेपी की कैबिनेट से बर्खास्तगी की मांग
Ranchi News in Hindi

News18 Jharkhand
Updated: April 2, 2020, 11:00 AM IST
बसों से मजदूर भेजने के मामले में बुरे फंसे मंत्री आलमगीर आलम, बीजेपी की कैबिनेट से बर्खास्तगी की मांग
प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने कहा कि मुख्यमंत्री छोटे पदाधिकारियों को अनुशासन की सीख देते हैं, दंडित कर रहे हैं, जबकि अपने मंत्री के संगीन अपराधों पर पर्दा डालते हैं. (फाइल फोटो)

दीपक प्रकाश (Deepak Prakash) ने कहा कि विगत 29 मार्च को मंत्री ने अपने पत्र के माध्यम से रांची जिला प्रशासन पर दबाव बनाकर लॉकडाउन (Lockdown) के बीच 600 लोगों को रांची से बाहर ले जाने के लिये बस चलाने की स्वीकृति दिलाई.

  • Share this:
रांची. प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दीपक प्रकाश (Deepak Prakash) ने राज्य सरकार पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि राज्य में विधि व्यवस्था ध्वस्त है. जनता से नियमों का पालन करने को कहा जाता है, जबकि राज्य के मंत्री कानून की धज्जियां उड़ा रहे हैं. एक तरफ पूरा प्रदेश कोरोना (Corona) को लेकर लॉकडाउन है, तो दूसरी तरफ मंत्री आलमगीर आलम (Alamgir Alam) अपने कारनामों से संवैधानिक संकट पैदा कर रहे हैं.

मंत्री ने बनाया जिला प्रशासन पर दबाव

दीपक प्रकाश ने कहा कि विगत 29 मार्च को मंत्री ने अपने पत्र के माध्यम से रांची जिला प्रशासन पर दबाव बनाकर लॉकडाउन के बीच 600 लोगों को रांची से बाहर ले जाने के लिये बस चलाने की स्वीकृति दिलाई. इसी को आधार बनाकर मंत्री ने लोगों को रांची से बाहर कोडरमा, साहेबगंज आदि स्थानों पर भेजा. इनमें से अधिकांश लोग बांग्लादेशी हैं.



दीपक प्रकाश ने रांची उपायुक्त द्वारा इस संबंध में जारी दूसरे पत्र का हवाला देते हुए कहा कि प्रशासन ने भारत सरकार के निर्देश के आलोक में गाड़ियों के संचालन आदेश को उसी दिन निरस्त कर दिया था. फिर भी मंत्री ने बसों में बिठाकर लोगों को कैसे भेजा. ऐसे में जहां मंत्री ही नियम कानून को तोड़ते हैं, वहां जनता से कैसे पालन की उम्मीद की जा सकती है.



सीएम हेमंत पर निशाना

प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि मुख्यमंत्री छोटे पदाधिकारियों को अनुशासन की सीख देते हैं, दंडित कर रहे हैं, जबकि अपने मंत्री के संगीन अपराधों पर पर्दा डालते हैं. राज्य की जनता इन करतूतों को समझ रही है. मुख्यमंत्री को तत्काल ऐसे मंत्री पर आपराधिक मुकदमा दर्ज कराते हुए मंत्रिमंडल से बर्खास्त करना चाहिये.

11 बसों से 600 मजदूरों को भेजा 

बता दें कि लॉकडाउन के बावजूद मंत्री आलमगीर आलम की पहल पर बीते रविवार की रात को 11 बसों में 600 मजदूरों को रांची से विभिन्न जिलों को भेजा गया था . इन बसों में मजदूर जानवरों की तरह ठूसे हुए थे, जो इन्हें पाकुड़, साहिबगंज और कोडरमा लेकर गईं. सभी बसें रांची के धुर्वा से रवाना हुई थीं.

रिपोर्ट- भुवन किशोर झा

ये भी पढ़ें- तबलीगी जमात में शामिल मंत्री पुत्र का लिया सैंपल, पूरा परिवार होम क्वारंटाइन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 2, 2020, 10:59 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading