• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • झारखंड में हॉर्स ट्रेडिंग के आरोपों में फंसी BJP ने कहा, 'SIT जांच करवाई जाए'

झारखंड में हॉर्स ट्रेडिंग के आरोपों में फंसी BJP ने कहा, 'SIT जांच करवाई जाए'

झारखंड में भाजपा ने हॉर्स ट्रेडिंग के आरोपों को नकारा.

झारखंड में भाजपा ने हॉर्स ट्रेडिंग के आरोपों को नकारा.

Horse Trading in Jharkhand : भाजपा ने उन तमाम आरोपों को नकारा, जिनके अनुसार वह झारखंड में गठबंधन सरकार को गिराने की कोशिश कर रही है. विधायकों की खरीद फरोख्त मामले की उच्च स्तरीय जांच की मांग भाजपा ने की.

  • Share this:
रांची. झारखंड में सियासत गर्मा गई है क्योंकि झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेतृत्व और कांग्रेस के साथ गठबंधन वाली सरकार को गिराने की साज़िश के गंभीर आरोप लगे हैं. कांग्रेस के एक विधायक ने यह दावा किया कि उसे '50 करोड़ रुपये के साथ ही नई सरकार में मंत्री पद दिए जाने का प्रस्ताव मिला'. सोमवार को यह दावा ​करते हुए विधायक ने भारतीय जनता पार्टी के चरित्र और नीयत पर आरोप लगाया, तो राज्य की सियासत में बवाल खड़ा हो गया. आरोपों के दायरे में आई बीजेपी ने अब विधायकों की इस अवैध खरीद फरोख्त के मामले में विशेष जांच करवाए जाने की मांग की है.

बीजेपी ने खुद पर लगे आरोपों को नकारते हुए कहा कि इस मामले में एसआईटी जांच हो और जांच टीम का प्रमुख हाई कोर्ट के किसी मौजूदा न्यायाधीश को बनाया जाए. यहां यह भी याद रखने की बात है कि बीते शनिवार को सरकार के खिलाफ साज़िश करने के आरोप में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया था. इसके दो दिन बाद ही कांग्रेस नेता ने इस तरह के आरोप लगाए.

ये भी पढ़ें : पलामू में अस्पताल सील, मैनेजर लेता था महिला की अश्लील तस्वीरें, चल रही थीं कई धांधलियां

jharkhand news, jharkhand assembly, jharkhand bjp, jharkhand congress, jharkhand government, झारखंड न्यूज़, झारखंड विधानसभा, झारखंड में बीजेपी, झारखंड में कांग्रेस
बीजेपी पर झारखंड की सोरेन सरकार को गिराने की साज़िश के आरोप चर्चा में हैं.


कैसे हुआ था मामले का खुलासा?
वास्तव में, कोलबीरा से कांग्रेस के विधायक नमन बिक्सल कोंगरी ने कहा था, 'कुछ लोग मेरे और अन्य विधायकों के पास पहुंचे थे, जिनका मकसद राज्य में सरकार को गिराना था.' जब विधायक से पूछा गया कि ये लोग किस पार्टी के थे, तब उन्होंने कहा था कि इस बारे में उन्हें पुख्ता जानकारी नहीं थी, लेकिन उनमें से कुछ लोगों ने कुछ भाजपा सदस्यों के नाम ज़रूर लिये थे.

ये भी पढ़ें : रांची में 1 अगस्त से ज़मीन और फ्लैट 10 प्रतिशत महंगे, सबसे महंगा वार्ड 47

क्या है झारखंड में सरकार का गणित?
राज्य में कुल 81 विधानसभा सीटें हैं यानी बहुमत के लिए 41 सीटें ज़रूरी हैं. 30 विधायक झामुमो के हैं, कांग्रेस के 16 और आरजेडी के 1 विधायक को मिलाकर गठबंधन सरकार में 47 विधायक हैं, जो बहुमत से ज़्यादा हैं. वहीं बीजेपी को पिछले चुनाव में 25 सीटों पर जीत मिली थी. साथ ही, चार निर्दलीय विधायक भी हैं. कुल मिलाकर सरकार में बहुमत से बहुत नहीं, सिर्फ 6 विधायक ज़्यादा हैं. ऐसे में कथित तौर पर विधायकों की खरीद फरोख्त के ज़रिये राज्य सरकार को नेस्तनाबूद करने की साज़िश के आरोप लगे हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज