लाइव टीवी

ओम माथुर बोले- गठबंधन को लेकर गेंद आजसू के पाले में, छोड़ रखी हैं 9 सीटें

News18 Jharkhand
Updated: November 15, 2019, 1:19 PM IST
ओम माथुर बोले- गठबंधन को लेकर गेंद आजसू के पाले में, छोड़ रखी हैं 9 सीटें
ओम माथुर ने कहा कि अगर सीट बंटवारे पर बात नहीं बन रही, तो हमें सौहार्दपूर्ण वातावरण में चुनाव में जाना चाहिए.

सीट शेयरिंग में पेंच के बीच लोहरदगा, चंदनक्यारी, चक्रधरपुर, छतरपुर, सिंदरी, मांडू में बीजेपी (BJP) और आजसू (AJSU) के उम्मीदवार आमने-सामने हैं.

  • Share this:
रांची. बीजेपी चुनाव प्रभारी ओम माथुर (Om Mathur) ने कहा कि बीजेपी (BJP) अब भी गठबंधन को साथ बनाये रखना चाहती है. सीट बंटवारे पर अगर बात नहीं बन रही, तो भी हमें सौहार्दपूर्ण वातावरण में चुनाव में जाना चाहिए. चुनाव में फ्रेंडली फाइट होती रहती है. उन्होंने कहा कि गठबंधन को लेकर अब गेंद आजसू (AJSU) के पाले में है. हम आजसू के फैसले का इंतजार कर रहे हैं. हमने 9 सीटों पर उम्मीदवार नहीं उतारे हैं. आजसू के लिए छोड़ रखी है. जमशेदपुर पश्चिम सीट से सरयू राय (Saryu Ray) के टिकट पर उन्होंने कहा कि इस पर केन्द्रीय नेतृत्व फैसला लेगी.

गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी ने झारखंड चुनाव के लिए प्रत्याशियों की तीसरी लिस्ट जारी कर दी. इस लिस्ट में भी मंत्री सरयू राय के टिकट का ऐलान नहीं हुआ है. हालांकि मंत्री नीलकंठ सिंह मुंडा और अमर बाउरी को टिकट दिया गया है. इस लिस्ट में 15 प्रत्याशियों के नामों का ऐलान किया गया. बीजेपी ने अबतक पाकुड़, बड़कागांव, रामगढ़, डुमरी, गोमिया, टुंडी, जुगसलाई, जमशेदपुर पश्चिमी, जगन्नाथपुर, तमाड़, सिल्ली और कांके सीट पर उम्मीदवार नहीं उतारे हैं. जबकि लोहरदगा, चंदनक्यारी, चक्रधरपुर, छतरपुर, सिंदरी, मांडू में बीजेपी और आजसू के उम्मीदवार आमने-सामने हैं. इस बीच आजसू ने साफ कर दिया है कि वह 26 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. ऐसे में सीट शेयरिंग को लेकर बीजेपी-आजसू में बात बनती नहीं दिख रही है.

उधर, प्रदेश कांग्रेस प्रभारी ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि एनडीए का कुनबा अब पूरे देश में बिखरता हुआ नजर आ रहा है. बीजेपी के घमंड के चलते ऐसा हो रहा है. प्रदेश बीजेपी के अंदर भी बिखराव है, ऐसे में पार्टी को पहले अपना घर संभालना चाहिए. पूर्व प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप बलुमूच के आजसू में शामिल होने पर उन्होंने कहा कि वो अपने और अपने परिवार के टिकट के लिए हमेशा लड़े, कभी भी कार्यकर्ताओं और पार्टी के लिए नहीं सोचा.

(इनपुट- नौशाद आलम)

ये भी पढ़ें- झारखंड चुनाव 2019: पूर्व CM मधु कोड़ा को सुप्रीम कोर्ट से झटका, नहीं लड़ पाएंगे चुनाव

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 15, 2019, 1:18 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...