रांची से अयोध्या के लिए निकला पहानों का जत्था, BJP विधायक दल के नेता ने किया रवाना
Ranchi News in Hindi

रांची से अयोध्या के लिए निकला पहानों का जत्था, BJP विधायक दल के नेता ने किया रवाना
रांची से जत्था अयोध्या के लिए निकला.

अयोध्या (Ayodhya) में श्री राम मंदिर के शिलान्यास को लेकर झारखंड (Jharkhand) की राजधानी रांची (Ranchi) से पहानों का जत्था अयोध्या के लिए रवाना हो गया.

  • Share this:
रांची. अयोध्या (Ayodhya) में श्री राम मंदिर के शिलान्यास को लेकर झारखंड (Jharkhand) की राजधानी रांची (Ranchi) से पहानों का जत्था अयोध्या के लिए रवाना हो गया. रवानगी से पूर्व पहानों का आदिवासी परंपरा के अनुसार पहले स्वागत किया गया. फिर उन्हें हरी झंडी दिखाकर विदा किया गया. 5 अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर के शिलान्यास को लेकर रांची से 12 पहानों का जत्था अयोध्या के लिए रवाना हो गया. जत्थे को रवानगी से पहले मेयर आशा लकड़ा के आवास पर आयोजित कार्यक्रम में सभी पहानों को बाबूलाल मरांडी ने आदिवासी परंपरा के अनुसार स्वागत किया.

इस मौके पर पूर्व विधायक रामकुमार पाहन, गंगोत्री कुजूर, मेयर आशा लकड़ा, सांसद संजय सेठ समेत आदिवासी संगठनों के कई नेता और पहन कार्यक्रम में शामिल हुए. पहानों को संबोधित करते हुए बाबूलाल ने कहा कि अयोध्या जाकर प्रभु श्रीराम तक उनका यह संदेश जरूर पहुंचाएं कि लॉकडाउन के बाद वह भी प्रभु के चरणों में जल्द पहुंचेंगे. बाबूलाल ने कहा कि सरना स्थल से पवित्र मिट्टी लेने का विरोध करने वालों को आदिवासी परंपरा की सही जानकारी नहीं है. उन्होंने कहा कि वह भी विश्व हिंदू परिषद से जुड़े रहे हैं, लेकिन कभी भी किसी पंडित ने उन्हें सरना धर्म छोड़ने को नहीं कहा और ना ही उनकी पूजा पद्धति पर सवाल उठाए.

इन बातों का रखा ध्यान
रवानगी से पूर्व तीनों वाहनों को पहले सेनीटाइज किया गया और फिर पहानों के बीच मास्क और सेनीटाइजर का वितरण किया गया. अयोध्या में मंदिर का शिलान्यास  और रांची से भव्य विदाई को लेकर पहान भी इस दौरान काफी उत्साहित नजर आए. यह सभी पहान प्रदेश के अलग-अलग जिलों से अयोध्या जाने के लिए आज रांची पहुंचे. पहानों की मानें तो प्रदेश की पवित्र मिट्टी और जल से प्रभु श्रीराम की अयोध्या में वह पूजा करेंगे. बता दें कि कई सरना स्थल से पवित्र मिट्टी और नदियों का जल अयोध्या भेजे जाने का कुछ आदिवासी संगठन विरोध कर रहे हैं, लेकिन आज तमाम विरोध के बीच कई आदिवासी संगठन और पहान बीजेपी के इस कार्यक्रम में नजर आए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज