होम /न्यूज /झारखंड /वोटबैंक के लिए हेमंत सोरेन और बाबूलाल मरांडी दे रहे ईसाई धर्मगुरुओं को संरक्षण- समीर उरांव

वोटबैंक के लिए हेमंत सोरेन और बाबूलाल मरांडी दे रहे ईसाई धर्मगुरुओं को संरक्षण- समीर उरांव

समीर उरांव ने कहा कि बच्चा बेचने के मामले में विपक्ष की चुप्पी सवालों के घेरे में है. इसमें विपक्षी नेताओं की जांच होगी

समीर उरांव ने कहा कि बच्चा बेचने के मामले में विपक्ष की चुप्पी सवालों के घेरे में है. इसमें विपक्षी नेताओं की जांच होगी

समीर उरांव (Sameer Oraon) ने आरोप लगाया कि मिशनरीज ऑफ चैरिटी (Missionaries of Charity) के निर्मल हृदय का काम बहुत ही नि ...अधिक पढ़ें

    रांची. बीजेपी सांसद समीर उरांव (Sameer Oraon) ने जेएमएम (JMM) और जेवीएम (JVM) पर ईसाई मिशनरीज (Christian Missionaries) से साठगांठ का आरोप लगाया है. बच्चा बेचने (Child Selling Case) के मामले का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इस पर विपक्ष की चुप्पी सवालों के घेरे में है. कहीं इसमें विपक्षी नेताओं का हाथ तो नहीं, इसकी भी जांच होनी चाहिए. समीर उरांव ने कहा कि वोट बैंक के लिए नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन (Hemant Soren) और जेवीएम सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी (Babulal Marandi) ईसाई धर्मगुरुओं को संरक्षण दे रहे हैं.

    समीर उरांव ने आरोप लगाया कि मिशनरीज ऑफ चैरिटी के निर्मल हृदय का काम बहुत ही निर्मम है. इस संस्था ने एक साल में 9 सौ से ज्यादा बच्चों की हेराफरी और सौदेबाजी की. लेकिन इस कूकृत्य पर विपक्ष चुप है. संस्थान रेप पीड़िता की जानकारी पुलिस को नहीं दी. और जन्म के बाद नवजात को रखकर मां को भेज दी.

    सीआईडी ने मारा था छापा 

    बीते शुक्रवार को सीआईडी की टीम ने निर्मल हृदय में छापेमारी की थी. देर रात तक चली इस छापेमारी में सीआईडी ने निर्मल हृदय के कार्यालय से अविवाहित माता एडमिशन रजिस्टर, सदर अस्पताल में नवजात के जन्म से संबंधित कागजात, एडॉप्शन से जुड़े अहम दस्तावेज जब्त किए. सीआईडी की अबतक की जांच में ये बात सामने आई है कि साल 1995 से 2018 तक निर्मल हृदय में जो अविवाहित माताएं एडमिट हुईं, उनसे जन्मे 927 नवजात शिशुओं के बारे में संस्थान ने न सीडब्ल्यूसी को कोई जानकारी दी और न ही केस के अनुसंधानकर्ता को.

    क्या है मामला ?

    निर्मल हृदय से एक नवजात को डेढ़ लाख में बेचने का मामला 3 जुलाई 2018 को सामने आया था. यूपी की दंपति को बच्चा बेचने के मामले में तब निर्मल हृदय की सिस्टर कौनसिलिया बाखला और सिस्टर अनिमा इंदवार को गिरफ्तार किया गया था. अनिमा के पास से पुलिस ने 1 लाख 20 हजार रुपये बरामद किए थे. सीआईडी ने बाद में इस केस को टेकओवर किया. सीआईडी मिशनरी ऑफ चैरिटी की सिस्टर मेरीडियान समेत 18 अभियुक्तों के खिलाफ पूरक अनुसंधान कर रहा है.

    इनपुट- भुवन किशोर

    ये भी पढ़ें- पूर्व आईएएस अधिकारी सुचित्रा सिन्हा होंगी बीजेपी में शामिल

     

    Tags: Assembly Election 2019, Babulal marandi, BJP, Hemant soren, Jharkhand Assembly Election 2019

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें