आदिवासी समाज की भावना को भड़काना आसान, कांग्रेस ने यही किया है: अमित शाह

बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि आदिवासी समाज को भी सम्मान के साथ जीने का अधिकार है. एससी-एसटी एक्ट में बदलाव से यह एक्ट और मजबूत हुआ है

News18 Jharkhand
Updated: July 11, 2018, 5:47 PM IST
आदिवासी समाज की भावना को भड़काना आसान, कांग्रेस ने यही किया है: अमित शाह
बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह
News18 Jharkhand
Updated: July 11, 2018, 5:47 PM IST
भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने अपने एक दिवसीय रांची दौरे में आदिवासी बुद्धिजीवियों के साथ संवाद किया. राजधानी के कार्निवल ग्राउंड में आयोजित जनजातीय समाज के साथ संवाद कार्यक्रम में बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि विपक्ष ने आदिवासी समाज में भ्रम फैलाया है, जिसे हम दूर करने आए हैं. उन्होंने कहा कि मैं आदिवासी समाज को पिछले चार साल का हिसाब देने आया हूं. मोदी सरकार से हिसाब मांगना आपका हक है.

राज्य की रघुवर सरकार की तारीफ करते हुए शाह ने कहा कि केन्द्र ने गैस दिया, तो राज्य सरकार ने चूल्हा दे दिया. कांग्रेस पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि अनुसूचित जनजाति को कांग्रेस ने बिजली से वंचित रखा, जबकि हम हर आदिवासी के घर में बिजली देंगे. आदिवासी समाज की भावना को भड़काना आसान है. कांग्रेस ने यही किया है, विकास नहीं.

बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि आदिवासी समाज को भी सम्मान के साथ जीने का अधिकार है. एससी-एसटी एक्ट में बदलाव से यह एक्ट और मजबूत हुआ है. उन्होंने कहा कि अब तक हर सम्मान कांग्रेस को मिलती थी, लेकिन हमने गरीबों को दिया. शाह ने कहा कि हमने हिसाब दे दिया अब जेएमएम और कांग्रेस से हिसाब मांगें. जब उन्होंने मौजूद लोगों से पूछा कि वे मोदी को फिर से पीएम बनाएंगे, तो लोगों ने हां में जवाब दिया.

सीएम रघुवर दास ने कहा कि आदिवासी समाज अब जाग गया है. अब वो विकास चाहता है और उनका विकास हमारा लक्ष्य है. उन्होंने लोकसभा चुनाव में सभी १४ सीटों पर जीत दिलाने की लोगों से अपील की.

(अजयलाल की रिपोर्ट)

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर