लाइव टीवी

हेमंत सरकार की 100 दिन की दो उपलब्धियां, आदिवासियों की हत्या और भूख से मौत: बीजेपी
Ranchi News in Hindi

News18 Jharkhand
Updated: April 9, 2020, 11:19 AM IST
हेमंत सरकार की 100 दिन की दो उपलब्धियां, आदिवासियों की हत्या और भूख से मौत: बीजेपी
हेमंत सरकार के सौ दिन पूरे होने पर प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने नाकामी गिनाई. (फाइल फोटो)

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष (Deepak Prakash) ने कहा कि भूख से मौत राज्य में आम बात हो गई है. कोरोना (Corona) संकट के बीच लॉकडाउन में केंद्र से प्राप्त अनाज को गरीबों तक पहुचाने में यह सरकार विफल है.

  • Share this:
रांची. भाजपा प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश (Deepak Prakash) ने हेमंत सरकार (Hemant Government) पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि आदिवासी हित की बात करने वाली सरकार में आदिवासियों की निर्मम हत्या आम बात हो गई है. उन्होंने कहा कि पूत के पांव पालने में ही दिख जाते हैं. सरकार गठन के साथ ही पश्चिमी सिंहभूम में आदिवासियों की नृशंस हत्या हुई, जबकि सरकार ने अपना 100वां दिन भी गुमला के सिसई में आदिवासियों की हत्या से ही पूरा किया, जो राज्य के लिये दुर्भाग्यपूर्ण है.

'कोरोना के इलाज में भी तुष्टिकरण कर रही सरकार'

उन्होंने कहा कि सरकार के नीति और नियत का यह दुष्परिणाम है. सरकार ने पहली कैबिनेट की बैठक में ही पत्थलगड़ी के तहत दर्ज देशद्रोह के मुकदमों को वापस लिया. इसके कारण भारत के संविधान को नहीं माननेवालों का मनोबल बढ़ा. इस सरकार की दूसरी नीति है तुष्टिकरण. यह सरकार गरीबों की सेवा और कोरोना के इलाज में भी तुष्टिकरण कर रही है. सरकार के मंत्री धर्म विशेष और क्षेत्र के लोगों के लिये नियम-कानून की धज्जियां उड़ाते हुए प्रशासन पर दबाव बनाते हैं. अधिकारियों की पोस्टिंग भी धर्म के आधार पर की जा रही है. ऐसी सरकार से राज्य की भलाई संभव नही हैं.



'भूख से मौत राज्य में आम बात'



प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि भूख से मौत राज्य में आम बात हो गई है. कोरोना संकट के बीच लॉकडाउन में केंद्र से प्राप्त अनाज को गरीबों तक पहुचाने में यह सरकार विफल है. गुमला के सिसई में बोलबा उरांव की धारदार हथियार से हत्या पर शोक जताते हुए दीपक प्रकाश ने कहा कि यह घटना सरकार के तुष्टिकरण की राजनीति का ही वीभत्स रूप है. कोरोना संकट और लॉकडाउन के बीच ऐसी घटना प्रशासनिक विफलता की निशानी है. उन्होंने इस संबंध में दोषियों की गिरफ्तारी की मांग की. साथ ही घटना में घायल सोमरा उरांव, जतरु उरांव, विवेक उरांव एवं भुवनेश्वर उरांव के समुचित इलाज की भी मांग की.

बता दें कि सिसई में कोरोना फैलाने के अफवाह में मंगलवार रात दो गुटों में झड़प हो गई. इस घटना में एक युवक की मौत हो गई. चार लोग घायल हो गये.

इनपुट- भुवन किशोर झा

ये भी पढ़ें- झारखंड में आगे बढ़ सकता है लॉकडाउन, डॉक्टरों की सलाह पर 13 को फैसला लेगी सरकार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 9, 2020, 11:17 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading