बीजेपी ने झारखंड के हर विधानसभा में 50,000 सदस्य बनाने का रखा लक्ष्य

इस बैठक में रघुवर दास सभी मंत्री और विधायकों को जनता से लगातार संपर्क में रहने की अपील की है. सूबे में चार महीने बाद विधानसभा का चुनाव होना है. इसी को देखते हुए सीएम आज विधायकों को विधानसभा चुनाव में जीत के टिप्स दिया.

Ajay Lal | News18 Jharkhand
Updated: July 3, 2019, 1:51 PM IST
बीजेपी ने झारखंड के हर विधानसभा में 50,000 सदस्य बनाने का रखा लक्ष्य
बीजेपी ने झारखंड के हर विधानसभा में 50,000 सदस्य बनाने का रखा लक्ष्य
Ajay Lal
Ajay Lal | News18 Jharkhand
Updated: July 3, 2019, 1:51 PM IST
झारखंड के सीएम रघुवर दास के सरकारी आवास पर बीजेपी विधायक दल की बैठक खत्म हो गई है. बैठक में सीएम रघुवर दास के अलावा 31 विधायक मौजूद रहे. सीएम रघुवर दास ने विधायकों को अबकी बार 65 पार के लक्ष्य को हासिल करने का टास्क दिया है. इसके लिए सभी विधायकों को 50 हजार सदस्य बनाने का लक्ष्य सौंपा गया है. इस लक्ष्य को पाने के लिए बीजेपी की ओर से 6 जुलाई से 30 जुलाई तक सदस्यता अभियान चलाया जाएगा. गौरतलब है कि इस बैठक के लिए बीजेपी के सभी विधायकों को पिछले तीन दिनों से न्योता दिया जा रहा था.

सीएम ने विधायकों को दिया विधानसभा चुनाव जीतने का टिप्स

इस बैठक में रघुवर दास सभी मंत्री और विधायकों को जनता से लगातार संपर्क में रहने की अपील की है. सूबे में चार महीने बाद विधानसभा का चुनाव होना है. इसी को देखते हुए सीएम आज विधायकों को विधानसभा चुनाव में जीत के टिप्स दिया. चुनावी मोड में आ चुकी बीजेपी मानती है कि विधानसभा के लिए तैयार है. ऐसे में तमाम विधायक चाहते हैं कि लोकसभा चुनाव के तर्ज पर कैंपेन चले और इसमें जीते हुए सांसद अहम भूमिका निभाये.

विधायक दल की बैठक में कई मंत्री रहे गायब

सरयु राय, सीपी सिंह, राज पलिवार, रामचन्द्र चंद्रवंशी समेत करीब आधा दर्जन मंत्री इस बैठक में शामिल नहीं हुए. श्रम मंत्री राज पलिवार आज सुबह तक रांची में थे, लेकिन वे देवघर चले गये हैं. वहीं मंत्री सरयू राय रांची में हैं, लेकिन वे बैठक में नहीं जायेंगे. वजह बताया जा रहा है कि आज ही रांची डीसी ने जलशक्ति पर बैठक बुलायी है. प्रभारी मंत्री होने के नाते सरयू राय इस बैठक में शामिल होंगे. कुल मिलाकर कहा जाए तो बीजेपी विधायक दल की बैठक में विधानसभा चुनाव का मुद्दा छाया रहा. हालांकि, कुछ विधायक अपने क्षेत्र की समस्याओं से भी सीएम रघुवर दास को अवगत करा सकते हैं.

ये भी पढ़ें - फर्जी दस्तावेज के आधार पर बेच दी 500 एकड़ वनभूमि

ये भी पढ़ें - झारखंड में नक्सली बच्चों को करते हैं भर्ती- गृह मंत्रालय
First published: July 3, 2019, 1:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...