अपना शहर चुनें

States

इस वजह से थाने में ही धरना पर बैठ गये बीजेपी नेता व कार्यकर्ता

थानेदार के खिलाफ थाने में ही धरने पर बैठे बीजेपी कार्यकर्ता
थानेदार के खिलाफ थाने में ही धरने पर बैठे बीजेपी कार्यकर्ता

थानेदार अनुप कर्मकार का कहना है कि थाने में सभी काम पारदर्शी तरीके से होता है. बीजेपी नेताओं के प्रदर्शन पर थानेदार ने कहा कि ये सब दबाव बनाने के लिए किया जा रहा है.

  • Share this:
भ्रष्टाचार को लेकर विपक्षी दल के लोग प्रदर्शन करें, तो बात समझ में आती है. लेकिन सत्तापक्ष के लोग थाने का घेराव करने पहुंच जाएं, तो सवाल लाजमी है. रांची में बीजेपी (BJP) के कार्यकर्ताओं ने जगरनाथपुर थाने का घेराव (Protest) कर थानेदार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. कार्यकर्ताओं ने थानेदार पर घूस (Bribe) मांगने का भी आरोप लगाया.

थानेदार पर घूस मांगने का आरोप

भाजपा नेता और पूर्व पार्षद कृष्णकांत राम ने कहा कि उनकी गाड़ी पिछले साल चोरी हो गयी. जगरनाथपुर थाने में शिकायत के बाद भी पुलिस गाड़ी को खोजने में नाकाम रही. अपने स्तर से बिहार के पावापुरी थाना क्षेत्र में गाड़ी होने का पता लगाया. लेकिन आठ माह बीतने के बाद भी पुलिस वहां से गाड़ी नहीं ला पाई है. थानेदार गाड़ी लाने के एवज में 25 हजार रुपये की मांग कर रहे हैं.



protest
रांची के जगरनाथपुर थाने में बीजेपी कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन

महिला मोर्चा की मंडल अध्यक्ष मोनिका कौर ने थानेदार को निलंबित करने की मांग की. उन्होंने कई गंभीर आरोप भी लगाये. मोनिका की माने तो थानेदार छोटे- छोटे काम तक के लिए पैसे की उगाही करते हैं. थाने में बगैर पैसे का कोई काम नहीं होता.

दबाव बनाने के लिए प्रदर्शन

हालांकि थानेदार अनुप कर्मकार का कहना है कि थाने में सभी काम पारदर्शी तरीके से होता है. बीजेपी नेताओं के प्रदर्शन पर थानेदार ने कहा कि ये सब दबाव बनाने के लिए किया जा रहा है. प्रदर्शन में ज्यादातर वैसे लोग हैं, जिन्हें गलत काम करने से पुलिस ने रोका है.

हालांकि जगरनाथपुर थानाप्रभारी पर भ्रष्टाचार के आरोप का ये कोई पहला मामला नहीं है. उनपर बदसलूकी और जमीन दलाली समेत कई गंभीर आरोप लगते रहे हैं. हालांकि इस सबके बावजूद अनुप कर्मकार अपने पद पर जमे हुए हैं.

रिपोर्ट- मनोज कुमार

ये भी पढ़ें- इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर खेती को अपनाया, सालभर में कमाया 8 लाख

राशनकार्ड को लेकर बड़े बदलाव की तैयारी में झारखंड सरकार, उठा सकती है ये कदम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज