Home /News /jharkhand /

bjp yuva morcha president tejashwi surya said congress has forgotten tribal freedom fighters after independence jhnj

बीजेपी युवा मोर्चा अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या बोले- कांग्रेस ने आजादी के बाद जनजातीय महापुरुषों को भुला दिया

बीजेपी युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या ने रांची में कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा.

बीजेपी युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या ने रांची में कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा.

बीजेपी युवा मोर्चा के अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या ने कांग्रेस पर बड़ा हमला बोला. उन्होंने कहा कि झारखंड वीरों की भूमि है. यहां के जनजाति समाज के लोगों ने आजादी के आंदोलन में बड़ी कुर्बानी दी. लेकिन कांग्रेस ने आजादी के बाद ऐसे जनजातीय महापुरुषों के बलिदान को भुला दिया. कांग्रेस केवल एक ही परिवार के महिमा मंडन में जुटी रही.

अधिक पढ़ें ...

रांची. बीजेपी प्रदेश युवा मोर्चा ने रांची में युवा संवाद कार्यक्रम आयोजित किया. इस कार्यक्रम में उपस्थित हजारों कार्यकर्ताओं में जोश भरते हुए पार्टी युवा मोर्चा के अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या ने कांग्रेस पर बड़ा हमला बोला. उन्होंने कहा कि झारखंड वीरों की भूमि है. यहां के जनजाति समाज के लोगों ने आजादी के आंदोलन में बड़ी कुर्बानी दी. लेकिन कांग्रेस ने आजादी के बाद ऐसे जनजातीय महापुरुषों के बलिदान को भुला दिया. कांग्रेस केवल एक ही परिवार के महिमा मंडन में जुटी रही.

तेजस्वी सूर्या ने कहा कि भगवान बिरसा मुंडा को रांची से दो हजार किलोमीटर दूर कर्नाटक में भी भगवान की तरह पूजा जाता है. पूरब से पश्चिम और उत्तर से दक्षिण तक पूरे भारत में जनजातीय युवक-युवतियों का आजादी के आंदोलन में 1857 से पहले अहम भूमिका रही. अब ऐसे गुमनाम महापुरुषों के त्याग व बलिदान को महिमा मंडित करने के लिए आजादी का अमृत महोत्सव पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश में मनाया जा रहा है. पीएम मोदी के नेतृत्व में यह बढ़ता भारत है, बदलता भारत है. आने वाले 25 साल देश के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है. जिसमें भारत आत्मनिर्भर, विकसित और विश्व गुरु बनेगा.

प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव उन सभी स्वतंत्रता सेनानियों को याद करने और उनसे प्रेरणा लेने के लिए मनाया जा रहा है. युवाओं के जोश को देखकर लगता है कि आने वाले समय में भारत का विश्व गुरु बनना निश्चित है. झारखंड के जनजातीय स्वतंत्रता सेनानियों की एक लंबी सूची है, जिन्हें इतिहास ने कभी स्थान नहीं दिया. इन वीर सपूतों ने अपनी मिट्टी, संस्कृति को बचाने के लिए अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई लड़ी और हजारों हजार आदिवासियों ने देश के लिए अपने प्राण त्याग दिये. पीएम मोदी ने उन वीर जनजाति सपूतों को सम्मान देने के लिए जनजाति गौरव दिवस मनाने का निर्णय लिया है, यही उनको सच्ची श्रद्धांजलि है.

बाबूलाल मरांडी ने कहा कि हम सभी आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं. इस मौके पर हम संकल्प लें कि केन्द्र की विकास योजनाओं को समाज के अंतिम वर्ग तक पहुंचाने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे.

Tags: BJP, Congress, Jharkhand news, Ranchi news

अगली ख़बर