लाइव टीवी

बुरुगुलीकेरा नरसंहार: मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन आज पीड़ित परिवारों से करेंगे मुलाकात
Ranchi News in Hindi

Naween Jha | News18 Jharkhand
Updated: January 23, 2020, 10:31 AM IST
बुरुगुलीकेरा नरसंहार: मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन आज पीड़ित परिवारों से करेंगे मुलाकात
सीएम हेमंत सोरेन आज सामूहिक नरसंहार के पीड़ितों से मुलाकात करेंगे. (फाइल फोटो)

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इस मामले में एसआईटी जांच का आदेश दिया है. और कहा कि इस नरसंहार के दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.

  • Share this:
रांची. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) आज पश्चिमी सिंहभूम के गुदड़ी प्रखंड के बुरुगुलीकेरा गांव का दौरा करेंगे. और सामूहिक नरसंहार (Burugulikera massacre) के पीड़ित परिवारों (Victims) से मिलकर उनका दर्द बांटेंगे. इससे पहले बुधवार को उन्होंने इस मामले में रांची में पुलिस के आलाधिकारियों के साथ बैठकर एसआईटी जांच (SIT Investigation) का आदेश दिया. सीएम ने कहा कि इस नरसंहार के दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा. सूचना है कि राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू भी बुरुगुलीकेरा गांव का दौरा कर सकती हैं.

सात ग्रामीणों के किये गये सिर कलम

बुधवार को व्यापक सर्च ऑपरेशन के बाद पुलिस ने बुरुगुलीकेरा गांव के पास एक जंगल से सात अगवा ग्रामीणों की सिर कटी लाशें बरामद कीं. पुलिस के मुताबिक सातों ग्रामीणों को पहले पीट-पीट कर अधमरा किया गया. फिर घसीटते हुए जंगल ले जाकर सिल कलम कर दिया गया. यह घटना 19 जनवरी की शाम की है. हालांकि पुलिस को दो दिन बाद 21 जनवरी को इसकी जानकारी मिली.

सूचना मिलने पर एसपी, डीसी समेत पुलिस और प्रशासन के आलाधिकारी गांव पहुंचे और शवों की तलाश शुरू की. लेकिन ग्रामीणों के विरोध के चलते तलाशी अभियान रोकना पड़ा. जिसके बाद बुधवार सुबह पुलिस ने फिर से तलाशी अभियान शुरू किया और दो घंटे की तलाशी में सातों शवों को पास के जंगल से बरामद किया.

चार ग्रामीण अभी भी लापता 

जानकारी के मुताबिक चार ग्रामीण अभी भी लापता हैं. 9 लोगों को अगवा किया गया था. जिनमें से 7 की लाशें बरामद की गई हैं. इसके अलावा दो अन्य ग्रामीण भी लापता हैं. पुलिस उनकी तलाशी में जुटी हुई है. गांव में कैंप कर रही है. इस बीच ड्यूटी में लापरवाही बरतने के चलते एसपी ने गुदड़ी थानाप्रभारी को निलंबित कर दिया है.

चाईबासा एसपी इंद्रजीत महथा ने बताया कि बुरुगुलीकेरा गांव में दो गुटों में वर्चस्व को लेकर विवाद हुआ था. पूर्व मुखियापति रणसी बूढ़ और उपमुखिया जेम्स बूढ़ के बीच वर्चस्व की लड़ाई में बीते 16 जनवरी को मृतकों ने आरोपियों के घर में तोड़फोड़ की थी. 19 जनवरी को दोनों गुटों के बीच इसको लेकर बैठक हुई. इसी बैठक से जेम्स बूढ़ समेत 7 लोगों को रणसी बूढ़ के समर्थकों ने अगवा कर लिया और हत्या कर दी. एसपी के मुताबिक इस मामले में दो प्राथमिकी दर्ज होगी. रणसी बूढ़ समेत तीन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ जारी है.ये भी पढ़ें- बुरुगुलीकेरा हत्याकांड की एसआईटी करेगी जांच, दर्ज होंगे दो एफआईआर

 

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 23, 2020, 10:30 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर