सीएजी की रिपोर्ट में धान खरीद में गड़बड़ी की जांच कराएगी सरकार

Bhuvan Kishor Jha | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: August 13, 2017, 7:03 PM IST
सीएजी की रिपोर्ट में धान खरीद में गड़बड़ी की जांच कराएगी सरकार
रणधीर सिंह मंत्री,कृषि,पशुपालन और सहकारिता विभाग
Bhuvan Kishor Jha | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: August 13, 2017, 7:03 PM IST
झारखंड में 2011-13 के बीच धान खरीद में हुई बड़े पैमाने पर गड़बड़ी मामले में सीएजी की रिपोर्ट आने के बाद राज्य सरकार ने इसकी जांच कराने का फैसला किया है. कृषि,पशुपालन और सहकारिता मंत्री रणधीर सिंह ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि सीएजी रिपोर्ट बेहद ही चिंता का विषय है. कृषि मंत्री ने कहा कि सरकार इसकी जांच कराएगी.

मंत्री रणधीर सिंह ने 2015-16 के दौरान राष्ट्रीय कृषि फसल बीमा योजना के अंतर्गत 3 लाख 74 हजार किसानों के बीमा राशि को निर्गत करते हुए सभी जिलों को जल्द से जल्द किसानों को भुगतान करने का निर्देश दिया है. इस मद में 212 करोड़ 52 लाख रूपए सहकारिता विभाग ने जारी किया है. 2016 में राष्ट्रीय फसल बीमा योजना के अंतर्गत राज्य के करीब 8 लाख किसानों ने बीमा कराया है, वहीं 2017 में अब तक 15 लाख किसानों ने बीमा कराया है.

कृषि मंत्री रणधीर सिंह ने कहा कि सीएजी की रिपोर्ट के अनुसार 2011 से 2013 के बीच में कुछ जिलों में ज्यादा धान खरीद लिए जाने की गड़बड़ियां हुई हैं. इसे संज्ञान में लेते हुए सरकार इसकी जांच कराएगी. इसके अतरिक्त मंत्री ने कहा कि झारखंड में 2015- 16 में 3 लाख 74 हजार 370 किसानों ने राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना के तहत बीमा कराया था. इसका क्लेम सेटलमेंट झारखंड सरकार की सहकारिता विभाग ने कर दिया है. राशि की भुगतान संबंधित जिलों को कर दी गई है.
First published: August 13, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर