होम /न्यूज /झारखंड /

कैशकांड : झारखंड के 3 कांग्रेसी MLAs को कलकत्ता हाईकोर्ट से राहत, मिली अंतरिम जमानत

कैशकांड : झारखंड के 3 कांग्रेसी MLAs को कलकत्ता हाईकोर्ट से राहत, मिली अंतरिम जमानत

कलकत्ता हाईकोर्ट से तीन महीने के लिए कांग्रेस के तीनों विधायकों को मिली है अंतरिम जमानत.

कलकत्ता हाईकोर्ट से तीन महीने के लिए कांग्रेस के तीनों विधायकों को मिली है अंतरिम जमानत.

झारखंड कांग्रेस के तीन विधायक इरफान अंसारी, विक्सल कोंगाड़ी और राजेश कच्छप को कलकत्ता हाई कोर्ट से जमानत मिल गई है. अदालत ने यह शर्त रखी है कि तीनों विधायकों को 3 महीने तक कोलकाता में ही रहना होगा. इसके अलावा हफ्ते में एक दिन आईओ के सामने पेश होना पड़ेगा.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

कांग्रेस के 3 विधायक इरफान अंसारी, राजेश कच्छप और नमन बिक्सल कोंगारी गिरफ्तार किए गए थे.
30 जुलाई को हावड़ा जिले के पंचला में एनएच-16 पर विधायकों की कार से 49 लाख नकद मिले थे.
फिलहाल कोलकाता पुलिस अधिकारियों ने कैशकांड मामले की जांच राज्य सीआईडी ​​को सौंप दी है.

रांची/कोलकाता. कलकत्ता उच्च न्यायालय ने हावड़ा जिले में पश्चिम बंगाल पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए झारखंड के 3 विधायकों को बुधवार को अंतरिम जमानत दे दी. बता दें कि कांग्रेस के 3 विधायकों – इरफान अंसारी, राजेश कच्छप और नमन बिक्सल कोंगारी – की कार को 30 जुलाई को हावड़ा जिले के पंचला में राष्ट्रीय राजमार्ग-16 पर रोका गया था और वाहन से लगभग 49 लाख रुपए नकद जब्त किए जाने के बाद पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार किया था.

बुधवार को न्यायमूर्ति जॉयमाल्या बागची और न्यायमूर्ति अनन्या बंदोपाध्याय के खंडपीठ ने तीनों विधायकों को 3 महीने के लिए अंतरिम जमानत दी है और उन्हें इस अवधि के दौरान कोलकाता नगरपालिका क्षेत्र नहीं छोड़ने का निर्देश दिया है. अदालत ने तीनों विधायकों को मामले में जांच अधिकारी के सामने सप्ताह में एक बार पेश होने और अपने पासपोर्ट जमा करने का भी निर्देश दिया. पुलिस अधिकारियों ने मामले की जांच राज्य सीआईडी ​​को सौंप दी है. हालांकि विधायकों ने दावा किया कि यह राशि झारखंड में एक आदिवासी त्योहार के लिए साड़ियां खरीदने के लिए उपयोग की जानी थी.

कांग्रेस के 3 विधायकों को अंतरिम जमानत मिलने पर बीजेपी, जेएमएम और कांग्रेस ने अपनी-अपनी तरह से प्रतिक्रिया व्यक्त की है. बीजेपी विधायक बिरंचि नारायण ने कहा कि इस पूरे मामले में कैसे क्या हुआ, यह तो तफ्तीश का विषय है. अब तीनों लोग बाहर आए हैं वही बता सकते हैं कि पूरा मामला क्या है, क्या उन्हें फंसाया गया है या फिर वे इस मामले में संलिप्त रहे हैं.

झारखंड मुक्ति मोर्चा की राज्यसभा सांसद महुआ माजी ने कहा कि सवाल जमानत मिलने या फिर किसी कांड का नहीं है, आखिर वे कौन ऐसे लोग हैं जो झारखंड में सरकार को गिराने की साजिश रच रहे हैं. मामला अभी पूरी तरह से संदिग्ध लग रहा है, ऐसे में अब देखना यह होगा कि आगे क्या होता है.

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने कहा कि हमारे कांग्रेस के 3 विधायक कैश कांड के तहत पकड़े गए और वे अभी जमानत पर बाहर निकले हैं. मामला न्यायालय में चला गया है. अब इस पूरे मामले में देखा जाएगा कि कैसे क्या हुआ, क्या नहीं हुआ है.

(भाषा के इनपुट के साथ)

Tags: Calcutta high court, Congress MLA, Jharkhand news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर